अमरोहा,जेएनएन। तहसील क्षेत्र के गंगा तटबंध किनारे के गांव मुबारिजपुर में कुएं में गिरा तेंदुआ करीब आठ घंटे तक फंसा रहा। आगरा से आई चिकित्सक एवं वन विभाग की टीम ने बेहोश कर सकुशल बाहर निकाला।

उल्लेखनीय है कि रविवार को गांव निवासी किसान केवल ङ्क्षसह तथा हाजीपुर निवासी हरचरन ङ्क्षसह को तेंदुआ ने हमला कर जख्मी कर दिया था। आदमपुर पुलिस तथा वन विभाग की टीम जाल तथा ङ्क्षपजरा लगाकर तेंदुए को पकडऩे की कोशिश कर रही थी। कई गांव के ग्रामीण भी तेंदुए को पकडऩे में मदद कर रहे थे। सोमवार सुबह भागते हुए तेंदुआ ग्रामीण सियाराम के गन्ने के खेत में स्थित कुएं में गिर गया था। सूचना पाकर डीएफओ रमेश चंद्रा पूरी टीम समेत पहुंच गए।

सोमवार को सुबह करीब 10 बजे कुएं में गिरे तेंदुए को देखने के लिए लोगों की भीड़ लगी रही। तेंदुए को कुएं से बाहर निकालने के स्थानीय वन विभाग की टीम के प्रयास असफल होने पर आगरा से टीम बुलाई गई। कई घंटे की मशक्कत के बाद टीम ने बंदूक से इंजेक्शन लगाकर तेंदुआ बेहोश किया। इसके बाद कुएं से निकालकर काबू में किया। शाम करीब 6 बजे तेंदुए को पकड़कर टीम ने राहत की सांस ली। क्षेत्रीय वन अधिकारी सुभाष चौधरी ने बताया तेंदुआ कुएं में गिर गया था। आगरा से आई टीम की मदद से तेंदुए को सकुशल निकाल लिया है। स्वास्थ्य परीक्षण कराने के बाद आला अधिकारियों के निर्देश के अनुसार आरक्षित जंगल में छुड़वाया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि कुछ दिनों पहले वन विभाग की टीम ने रजबपुर थानाक्षेत्र से एक तेंदुए को जाल में फंसाकर पकड़ लिया था, बाद में उसकी मौत हो गई थी। माना जा रहा है कि सोमवार को पकड़ा गया तेंंदुआ उसी का साथी है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस