रामपुर, जेएनएन : यह एक ऐसी महिला की साजिश की कहानी है, जिसने पति को बचाने के लिए दुष्कर्म के प्रयास और लूट की साजिश रची लेकिन पुलिस की जांच में दूध का दूध पानी का पानी हो गया। फिलहाल, पुलिस ने घटना फर्जी निकलने पर मुकदमे को एक्सपंज कर दिया। जिले के स्वार क्षेत्र के एक गांव निवासी महिला बुधवार रात अपने परिजनों के साथ घर में सो रही थी। रात को दीवार फांदकर बदमाश घर में घुस आए और शस्त्रों के बल पर सो रही महिला को बंधक बना लिया और छेड़छाड़ करने के साथ ही उसे दबोचकर दुष्कर्म का प्रयास किया। विरोध पर बदमाशों ने महिला के साथ मारपीट कर घर में रखे एक लाख रुपये, डेढ़ तोले सोना, दो सौ ग्राम चांदी के जेवर समेत लगभग दो लाख रुपये का सामान लूट लिया। शिकायत पर बदमाश जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए थे। महिला ने गुरुवार को गांव के ही दो नामजद समेत तीन अन्य के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरु कर दी। कोतवाल सतेंद्र कुमार ने बताया कि महिला का पति दुष्कर्म मामले में जेल में बंद है। उसने पति को बचाने के लिए झूठी तहरीर दी थी। रिपोर्ट दर्ज कर ली गई थी। जांच के दौरान घटना फर्जी निकलने पर मुकदमा एक्सपंज कर दिया है।  

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस