रामपुर। खजुरिया थाना क्षेत्र के अहरो गांव में झोलाछाप के इंजेक्शन से मासूम की मौत हो गई। इस पर आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया। इस बीच झोलाछाप रफूचक्कर हो गया। इसके बाद घंटों पंचायत का दौर चला, जिसके बाद बच्चे के स्वजन को डेढ़ लाख रुपये देकर मामला रफादफा कर दिया गया।

गांव निवासी मुहम्मद अली के ढाई वर्षीय पुत्र नोमान अली को मंगलवार की शाम तेज बुखार आया था। जिसे लेकर परिवार के लोग गांव में ही एक झोलाछाप की दुकान पर चले गए। बताते हैं कि उसने बच्चे को इंजेक्शन लगाया, जिससे उसकी हालत बिगडऩे लगी। देखते ही देखते कुछ देर में बच्चे ने दम तोड़ दिया। पता चलने पर तमाम लोग मौके पर पहुंच गए। वे बच्चे की मौत से आक्रोशित हो उठे और हंगामा शुरू कर दिया।

मामले की नजाकत को देखते हुए आरोपित वहां से खिसक लिया। बाद में घटना के तूल पकडऩे पर झोलाछाप पक्ष के लोगों ने मामले को लेकर पंचायत शुरू कर दी। वे बच्चे के परिवार को डेढ़ लाख रुपये देने की पेशकश करते हुए समझौते का दवाब बनाने लगे। पंचायत ने भी दबाव बनाया और पुलिस कार्रवाई न किए जाने को लेकर राजी कर लिया। इसके बाद देर रात में पंचायत ने पीडि़त परिवार को डेढ़ लाख रुपये देकर मामला रफा-दफा करवा दिया गया।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस