मुरादाबाद, जेएनएन। Train operation by electric engine। चार माह की प्रतीक्षा के बाद रेलवे बोर्ड ने शुक्रवार को आंवला बरेली के बीच इलेक्ट्रिक इंजन से मालगाड़ी व ट्रेन चलाने की अनुमत‍ि देे दी है। इसके तहत शनिवार से इलेक्ट्रिक इंजन से मालगाड़ी का संचालन शुरू कर दिया जाएगा

आनंद विहार रक्सौल सद्भावना एक्सप्रेस में भी शीघ्र ही डीजल इंजन हटाकर इलेक्ट्रिक इंजन लगाया जाएगा। कमिश्नर रेलवे आफ सेफ्टी की सहमति के बाद रेलवे बोर्ड से स्वीकृति मिलते ही मंडल रेल प्रशासन की ओरसे शनिवार से इलेक्ट्रिक इंजन द्वारा चन्दौसी होकर लखनऊ तक मालगाड़ी चलाई जाने लगी। शुक्रवार दोपहर से मुरादाबाद-चन्दौसी-बरेली के बीच ओएचई को करंट देकर चार्ज करना शुरू कर दिया गया। रेल प्रशासन डीजल इंजन के स्थान पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन और मालगाड़ी चलाने के ल‍िए लगातार प्रयासरत है। मुरादाबाद-लखनऊ रेल मार्ग पर कई साल से इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनें और मालगाड़‍ियां चलाई जा रहीं हैं। अधिक संख्या में मालगाड़ी और ट्रेनों को चलाने के लिए मुरादाबाद-चन्दौसी-बरेली मार्ग का विद्युतीकरण किया गया है। दिसंबर 2019 में मुरादाबाद-चन्दौसी-आवंला तक इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन और मालगाड़ी चलाने की स्वीकृति भी मिल चुकी है। आवंला-बरेली के बीच काम अधूरा होने से चन्दौसी होकर लखनऊ के लिए इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन नहीं चल पा रहींं थीं। आंवला-बरेली के बीच विद्युतीकरण हो जाने के बाद सितंबर 2020 में सीआरएस ने निरीक्षण किया था। कार्य अधूरा होने के कारण आंवला-बरेली के बीच इलेक्ट्रिक इंजन चलाने की स्वीकृत नहीं दी गई। अब सभी काम पूरे कर लिए गए हैं। शनिवार को सफलता पूर्वक इलेक्ट्रिक इंजन से मालगाड़ी का संचालन हो जाने के बाद आनंद बिहार-रक्सौल के बीच चलने वाली सद्भावना एक्सप्रेस में शीघ्र डीजल इंजन हटाकर इलेक्ट्रिक इंजन से संचालन शुरू कर दिया जाएगा। सहायक वाणिज्य प्रबंधक नरेश सिंह ने बताया कि शनिवार से चन्दौसी होकर लखनऊ के लिए इलेक्ट्रिक इंजन से मालगाड़ी चलाई जाएगी।  

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021