मुरादाबाद, जेएनएन। रोजा-सीतापुर के बीच तीन रेलवे स्टेशनों के दोहरीकरण का काम पूरा हो गया है। कमिश्नर रेलवे आफ सेफ्टी एसके पाठक ने गुरुवार की सुबह 10 बजे से निरीक्षण करना शुरू कर दिया है। माना जा रहा है कि रात से दोहरी रेलवे लाइन पर ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा।

रोजा से सीतापुर रेल मार्ग को मंडल में माल ढुलाई के ल‍िए प्रमुख रेल मार्ग माना जाता है। इसी मार्ग से पूर्वोत्तर राज्यों में माल भेजा जाता है। सीतापुर से रोजा के बीच 83 किलोमीटर के मार्ग पर रेलवे लाइन बदलकर ट्रेनों की स्‍पीड सौ किमी प्रति घंटा कर दी गई है। विद्युतीकरण हो जाने से ट्रेनें इलेक्ट्रिक इंजन द्वारा चलाई जाती हैं। सिंगल रेल मार्ग होने से मालगाड़ी व ट्रेनों को चलाने में परेशानी आ रही है। रेल मंत्रालय ने इस मार्ग को दोहरीकरण करने की स्वीकृति दो साल पहले ही दे द‍िया था। रेलवे का निर्माण विभाग दोहरीकरण के साथ नए मार्ग पर विद्युतीकरण का काम भी तेजी से करा रहा है। प्रथम चरण में इस मार्ग पर पड़ने वाले नौ स्टेशनों में से तीन स्टेशन बरतारा, ऊंचेलिया व जंगबहादुर गंज स्टेशन के बीच दोहरीकरण का काम पूरा हो चुका है। इसके बाद कम समय में अधिक से अधिक ट्रेनों का संचालन करना आसान हो जाएगा। मंडल रेल प्रबंधक तरुण प्रकाश ने बताया कि सीआरएस ने निरीक्षण शुरू कर दिया है। शाम तक निरीक्षण चलेगा। सीआरएस से स्वीकृति मिलने पर रात से दोहरी लाइन पर ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। 

यह भी पढ़ें :-

Indian Railways : रेलवे स्टेशन नहीं पेरिस कहिए जनाब, योगनगरी न्यू ऋषिकेश स्‍टेशन को व‍िकस‍ित करने की तैयारी

Indian Railways : रेल यात्र‍ियों को राहत, कोटद्वार से सिद्धबली जनशताब्दी एक्सप्रेस का संचालन शुरू

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021