मुरादाबाद, जेएनएन। अमरोहा सद्भावना एक्सप्रेस के इंजन के रेडिएटर में अचानक आग लगने कैलसा रेलवे स्टेशन से डेढ़ किमी पहले ट्रेन के पहिए जाम हो गए। इंजन में आग लगने की सूचना पर यात्रियों और रेलवे प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में आरपीएफ, जीआरपी और रेलवे के अधिकारी मौके पर पहुंच गए और आग पर काबू कर ट्रेन से इंजन को अलग किया। मुरादाबाद से दूसरा इंजन आने का इंतजार है। देर रात तक ट्रेन घटना स्थल पर खड़ी थी।

दिल्ली से आ रही सद्भावना एक्सप्रेस अमरोहा रेलवे स्टेशन होती हुई शनिवार की शाम करीब सात बजे मुरादाबाद के लिए रवाना हुई। तभी कैलसा से करीब डेढ़ किमी पहले इंजन के रेडिएटर में आग लग गई। आग लगने पर वहीं ट्रेन के पहिए जाम हो गए। ट्रेन के रुकने पर ड्राईवर ने देखा तो इंजन में आग लग रही थी। आग लगने की सूचना पर रेलवे प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में आरपीएफ, जीआरपी और विभागीय अधिकारी व कर्मी मौके पर पहुंचे। इंजन में लगी आग पर काबू पाने के बाद ट्रेन के डिब्बों से अलग किया।

अधिकारियों ने मुरादाबाद में उच्चाधिकारियों को इंजन मे आग लगने की सूचना दी और दूसरा इंजन भेजने का अनुरोध किया। सूचना पर उच्चाधिकारियों मेंं खलबली मच गई और वह मौके पर आने के लिए रवाना हो गए। देर रात तक इंजन नहीं आने से ट्रेन वहीं खड़ी थी। जिससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। अमरोहा रेलवे स्टेशन अधीक्षक सरदार सिंह ने बताया कि इंजन में आग लगने की सूचना है। जिसमें अमरोहा से आरपीएफ, जीआरपी और कर्मियों की टीम भेजी गई। मुरादाबाद से भी उच्चाधिकारियों की टीम पहुंच गई है। मुरादाबाद से इंजन आने के बाद ट्रेन को चलवाया जाएगा।

Edited By: Ravi Mishra