जागरण संवाददाता, मुरादाबाद। Indecency with Female Inspector in Moradabad : कर्बला के पास सुरक्षा व्यवस्था में तैनात महिला दारोगा ने एक संदिग्ध युवक को फटकार लगाई तो वह भड़क गया। आक्रामक होते हुए युवक ने महिला दारोगा के हाथ से उसका डंडा छीन लिया। इसके बाद ताबड़तोड़ वार करके दारोगा को पीटना शुरू कर दिया।

युवक ने महिला दारोगा के साथ अभद्रता भी की। तभी साथी पुलिस कर्मी आ गए और युवक को पकड़कर थाने ले गए। इस पूरे घटनाक्रम का किसी ने वीडियो बना लिया और वायरल कर दिया। बाद में पुलिस ने इंसानियत पेश करते हुए बिना किसी कार्रवाई के युवक को छोड़ दिया। क्योंकि युवक मानसिक रूप से बीमार निकला।

मुरादाबाद जनपद के कुंदरकी में मुहर्रम के चलते कर्बला पर उपनिरीक्षक नरगिस सैफी महिला टीम के साथ शन्ति व्यवस्था और सुरक्षा के लिए तैनात थी। कर्बला पर एक संदिग्ध युवक को महिला दरोगा ने फटकार लगाई तो युवक ने अपना आपा खो दिया और महिला उपनिरीक्षक से डंडा छीन कर मारने पीटने और हाथापाई पर करने लगा।

साथ ही अभद्रता भी शुरू कर दी। लेकिन अन्य पुलिसकर्मी आ गए और युवक को कब्जे में ले लिया। युवक को पुलिस थाने ले गई। इस दौरान घटनाक्रम का वीडियो भी किसी ने अपने मोबाइल पर बना लिया और इंटरनेट मीडिया पर वायरल कर दिया। वहीं क्षेत्र में महिला दरोगा के साथ मारपीट का मामला बढ़ने पर चर्चाएं होने लगी।

उधर आला अधिकारियों के संज्ञान में आने पर उन्होंने थानाध्यक्ष से घटनाक्रम की पूरी जानकारी ली। थानाध्यक्ष पवन कुमार ने बताया कि पकड़ा गया युवक मानसिक रूप से कमजोर था और वह मंदबुद्धि था। मुहल्ला सादात पूर्वी निवासी असलम का इलाज चल रहा है।

वहींं बुद्धिहीन होने के कारण उसके स्वजनों को सुपुर्द कर बीमारी के बारे में परामर्श भी दिया। बड़ी घटना होने के बाद भी पुलिस महकमे ने मानवता पेश कर नजीर बनी है वही जनता के सामने अच्छी छवि प्रस्तुत की है। कुंदरकी पुलिस की मानवे कार्यशैली की प्रशंसा हो रही है।

Edited By: Samanvay Pandey