जागरण संवाददाता, रामपुर : सरकार जहां तालाबों को सहेजने का मंत्र जनता को पढ़ाने का प्रयास कर रही है, वहीं लोग तालाबों के दुश्मन बन कर बैठे हैं। तालाबों का अस्तित्व आहिस्ता-आहिस्ता समाप्त होने के कगार पर है। तहसील सदर के मोमिनपुर अहमदाबाद गांव में तालाबों की स्थिति बेहद खराब है। गांव में लोग तालाबों को पूरी तरह खत्म करने में लगे हैं। पांच तालाबों में से दो तालाब पाट कर उन पर मकान बना लिए गए हैं। प्रधान के अनुसार अधिकारियों से शिकायत की गई। उन्होंने कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

धरती की कोख से पानी निकालना तो सब जानते हैं, लेकिन उसे वापस करने के विषय में कोई नहीं सोचता। हमारे पूर्वजों ने गांवों में तालाब इस मंशा से बनाए थे कि गांव वालों को पानी की उपलब्धता सरलता से होती रहे। धरती की कोख कभी प्यासी न रहे, लेकिन आधुनिकता की दौड़ में व्यक्ति पर्यावरण संरक्षण के मंत्र को बिल्कुल ही भूल बैठा। लोग बुरी तरह पानी का दोहन करने में लगे हैं। वहीं तालाबों के अस्तित्व को धीरे-धीरे नष्ट किया जा रहा है। नतीजा जल संकट के रूप में सामने आ रहा है। इस जल संकट से तालाब ही बचा सकते हैं। इसके लिए तालाबों का संरक्षण जरूरी है। तहसील सदर के मोमिनपुर अहमदाबाद गांव में पांच तालाब हैं, लेकिन मौके पर दो तालाब लगभग पूरी तरह गायब हो चुके हैं। उन पर लोगों ने मकान बना लिए हैं। इससे गांव के घरों से पानी के निकास का रास्ता पूरी तरह बंद हो गया है। इस कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रधन मोनिका ने बताया कि कब्जे को लेकर अधिकारियों से बात की जा चुकी है। उन्होंने कब्जे हटवाने का आश्वास दिया है। बाले गांववासी :

हमारे गांव में तीन तालाब सही हालत में हैं। दो तालाबों पर गांव वालों ने कब्जा करके पाट लिया है। उन पर मकान बना लिए गए हैं। उन्हें कब्जामुक्त करवाना चाहिए। -नरेश कुमार गौतम दो तालाबों को कब्जा कर लोगों ने मकान बना लिए हैं। इससे पानी का निकास बंद हो गया है। इस कारण वहां बीमारियां भी फैलती रहती है। अधिकारियों से कई बार इसको लेकर शिकायत की जा चुकी है। -वीर सिंह सागर तालाबों पर कब्जा कर लेने से गांव के घरों का पानी तालाब तक नहीं पहुंच पाता। इससे गंदा पानी सड़क पर भरा रहता है, जिससे राहगीरों को परेशानी होती है। तालाब से कब्जे हटाए जाने चाहिए। -मोहर सिंह कई लोगों ने दो तालाबों को अवैध रूप से कब्जा कर उन पर मकान बना लिए हैं। इससे जल निकासी बंद हो गई है। रास्तों पर पानी भरा रहता है। स्कूल जाने वाले बच्चों को बहुत परेशानी होती है। - बलवंत सिंह

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस