मुरादाबाद: सोशल मीडिया के बढ़ते इस्तेमाल के बाद इस पर ठगी के मामले भी बढ़ते जा रहे हैं। आम आदमी के बाद अब सरकारी अफसर भी इसका तेजी से शिकार हो रहे हैं। ताजा मामला बिजली विभाग का है, जहां हैकरों ने नगरीय विद्युत परीक्षण खंड के अधिशासी अभियंता प्रमोद गोगनिया की फर्जी फेसबुक आइडी बना उनके दोस्तों से रुपयों की मांग की, गनीमत रही कि दोस्तों की समझदारी से फर्जी आइडी का मामला सामने आ गया।

दरअसल, अधिशासी अभियंता की फेसबुक पर प्रमोद गोगनिया के नाम से आइडी है। हैकरों ने उन्हीं के नाम से फर्जी आइडी बनाई। मूल आइडी की तरह फर्जी आइडी में सभी जानकारी और फोटो समान रखीं। उसके बाद दोस्तों को मित्र अनुरोध भेजा, एक दो दोस्तों ने जब अनुरोध स्वीकार कर लिया, तब जरूरत बता तुरंत बीस हजार रुपये की मांग की। जिस पर दोस्तों को शक हुआ, फोन कर अधिशासी अभियंता को जानकारी दी तो वह हैरत में पड़ गए। तब जाकर फर्जी आइडी का मामला सामने आया। जिसके बाद अधिशासी अभियंता ने अपनी फेसबुक आइडी पर लिखते हुए दोस्तों को जानकारी दी कि मेरे नाम से फर्जी आइडी बनाई गई है, उसका मित्र अनुरोध स्वीकार ने करें।

एसडीओ के दोस्त को लगा था बीस हजार का चूना

बीते माह एसडीओ पीटीसी अजय कश्यप की हैकरों ने फर्जी फेसबुक आइडी बना उनके एक मित्र को बीस हजार का चूना लगाया था। फर्जी आइडी बना दोस्त से तुरंत जरूरत बता बीस हजार रुपये की मांग की थी, जिसके बाद उनके दोस्त ने बताए गए खाते में बीस हजार रुपये भेज भी दिए थे। बातचीत के बाद फर्जी फेसबुक आइडी की बात सामने आई थी। 

क्या करें : 

- जिसको जानते हों केवल उन्हीं का मित्र अनुरोध स्वीकार करें।

- किसी प्रकार की मांग पर दोस्त से बात करें।

- अपना पासवर्ड और लाग इन आइडी किसी से साझा न करें।

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस