जासं, मुरादाबाद : गजरौला में भवन बनाने के लिए नक्शा पास कराने के लिए अब किसी को दिक्कत नहीं होगी। सितंबर से यहां नक्शे पास होने का काम शुरू होगा। मुरादाबाद विकास प्राधिकरण ने गजरौला का ले आउट बनाकर लोगों से आपत्तियां मांगी हैं। आपत्तियों का निस्तारण होने के बाद शासन से मंजूरी मिलते ही नक्शे पास होने का काम शुरू हो जाएगा।

अमरोहा की नगर पंचायत गजरौला में नक्शे पास कराने के लिए बहुत बड़ी दिक्कत होती थी। यहां औद्योगिक क्षेत्र तेजी के साथ विकसित हो रहा है। हाईवे पर कई आलीशान होटल भी बने हैं। बिना नक्शे के काम आगे बढ़ना मुश्किल होता है। यहां कई नक्शे तो शासन की परमीशन लेकर बनाए गए। क्षेत्र के लोगों की मांग पर यह मामला मुरादाबाद विकास प्राधिकरण बोर्ड के सामने रखा गया। बोर्ड से हरीझंडी मिलने के बाद गजरौला का ले आउट तैयार हो गया। एमडीए ने अब ले आउट पर गजरौला के लोगों से आपत्तियां मांगी हैं। तीस दिन में मिलने वाली आपत्तियों का निस्तारण होगा। इसके बाद शासन को स्वीकृति के लिए ले आउट भेज दिया जाएगा। एमडीए सचिव सर्वेश कुमार गुप्ता ने बताया कि अगले दो महीने में गजरौला में नक्शा पास होने की समस्या का समाधान हो जाएगा। ले आउट को मंजूरी मिलने के बाद ले आउट से यह तय हो जाएगा कि कहां किस श्रेणी भी भूमि है। आवास किन स्थानों पर बनाया जा सकता है। किस इलाके में उद्योग लगाए जाएंगे। कहां व्यावसायिक इलाका होगा। ग्रीन बेल्ट कौन सी होगी। औद्योगिक नगरी के नक्शे पास होना बहुत ही जरूरी भी था।

Edited By: Jagran