मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। अदालत के आदेश पर अमरोहा में भाजपा के नगराध्यक्ष प्रेम सिंह सैनी व उनके भाई के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज की गई है। आरोप है कि दोनों भाइयों ने प्लाट बेचने के नाम पर दुकानदार से दो बार में छह लाख रुपये लिए थे। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

नगर कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला काला कुआं निवासी दिनेश अरोड़ा का आरोप है कि बीती 20 अगस्त 2014 को मुहल्ला बटवाल मंदिर वाली गली निवासी बाबूराम उनके पास आए थे। उन्होंने दो लाख रुपये की मांग की थी। बदले में छह माह के भीतर रकम लौटाने या प्लाट देने की बात कही थी। प्लाट भी दिखाया था। लिहाजा उन्होंने 26 अगस्त को बतौर सुबूत स्टांप लिख कर बाबूराम को दो लाख रुपये दे दिए। उसके दो साल बाद बाबूराम ने कहा कि उनके छोटे भाई प्रेम सिंह सैनी (भाजपा नगराध्यक्ष) अपना प्लाट बेच रहे हैं। लिहाजा 18 अप्रैल 2016 को स्टांप लिख कर चार लाख रुपये प्रेम सिंह सैनी को दे दिए। आरोप है कि उन्होंने प्लाट का बैनामा नहीं कराया, न ही पैसे लौटाए। बीती एक सितंबर 2021 को उनके घर जाकर रुपये मांगे तो उन्होंने पैसे देने से साफ इन्‍कार कर दिया और धमकी भी दी। पीड़ित ने कोतवाली में तहरीर दी, एसपी दफ्तर में भी शिकायत की। लेकिन मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई। बाद में दिनेश अरोड़ा ने अदालत की शरण ली। इस मामले में अदालत के आदेश पर नगर कोतवाली पुलिस ने प्रेम सिंह सैनी व बाबूराम के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। प्रभारी निरीक्षक अरविंद कुमार ने बताया कि जांच शुरू कर दी गई है।

इस मामले से मेरा कोई लेना-देना नहीं है। मैं किसी दिनेश अरोड़ा को नहीं जानता तथा न ही कभी पैसों के लेनदेन हुआ है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जांच में सत्य सामने आ जाएगा।

प्रेम सिंह सैनी, नगराध्यक्ष भाजपा।

 

Edited By: Narendra Kumar