जागरण संवादादाता, मुरादाबाद : विदेश से बिहार के शातिर ठग मोहातिर बिन शिफत ने मुरादाबाद के साइबरमैन कहे जाने वाले मनीष गोयल को धमकी दी है। कहा मुकदमा वापस नहीं लिया तो भाड़े के हत्यारे करने में समय नहीं लगेगा। पुलिस भी नहीं बचा पाएगी। तुझे 60 दिन में मरवा दूंगा।

 कोतवाली क्षेत्र के बाजार गंज के सर्राफ मनीष गोयल के खाते से 30 नवंबर 2016 को 25 हजार रुपये निकल गए। मनीष ने मुकदमा दर्ज कराने के साथ खुद ही छानबीन शुरू कर दी और पता लगा लिया कि बिहार के जिला चम्पावत के रक्सौल गांव निवासी मोहातिर बिन शिफत लोगों के खातों से लाखों रुपये उड़ाने का काम कर रहा है। दो अगस्त को मुरादाबाद की क्राइम ब्रांच के साथ मनीष खुद बैंग्लूरू से शातिर ठग को पकड़वा लाए। जमानत पर रिहा होते ही उसने मनीष को बम से उड़ाने की धमकी की। मनीष ने मामले में मुकदमा दर्ज करा दिया। मनीष को कंप्यूटर का अच्छा ज्ञान है। उनकी मेहनत से शातिर साइबर अपराधी पकड़ा गया था। इसलिए उनकी मुरादाबाद में साइबर मैन के रूप में पहचान हो गई।

 मनीष का आरोप है कि इन दिनों शिफत लंदन में बैठकर साइबर अपराध कर रहा है। वह अपने फेसबुक पेज पर तमाम बातें शेयर कर रहा है। शिफत ने लिखा है कि उसने एक दिन में 72 लाख की कमाई की है। अब वह पूरी तरह से सुरक्षित है। उसने मैसेंजर पर भेजे संदेश में कहा है कि अब मेरे दुश्मनों के विकेट गिरने शुरू होंगे। अगले 60 दिन में तुमको मरवा दूंगा। तुम्हारी वजह से मेरा कैफे बिजनेस दो साल बर्बाद रहा। मेरी गर्लफ्रैंड भी साथ छोड़ गई। पुलिस और ईश्वर भी तुमको नहीं बचा पाएगा। उन्होंने कोतवाली पुलिस को इसकी जानकारी दे दी।

 बेहद शातिर ठग है मोहातिर बिन शिफत

 मनीष गोयल ने बताया बीटेक का छात्र मोहातिर बिन शिफत शातिर है। उसने नकली भीम एप तैयार कर लाखों की हेराफेरी की है। मुरादाबाद पुलिस के हाथ लगने से पहले वह चार साल में ही ठगी कर करोड़पति बन गया था। उस समय भी 72 हजार लोगों का डाटा उसके पास था। देश के बेरोजगार युवकों को शार्टकट तरीके से मालामाल होने का सपना दिखाकर अपने जाल में फंसा लेता है।

 -साइबर ठगी के मामले आते रहते हैं। किसी ठग के धमकाने की बात गंभीर है। मामले की जांच कराकर कार्रïवाई कराएंगे।

राजेश कुमार, सीओ कोतवाली 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस