रामपुर, जेएनएन। पुलिस ने आठ बाइकों के साथ चोर गैंग को गिरफ्तार कर बड़ी सफलता हासिल की है। बाइकें दिल्ली, उत्तराखंड, अमरोहा आदि से चोरी की हुई बताई गई हैं। पुलिस मंगलवार की रात सैदनगर चौकी के गांव बंजरिया चौराहे पर गश्त पर थी। इसी बीच एसओजी प्रभारी शरद मलिक अन्य पुलिस कर्मियों के साथ प्रानपुर की ओर से बंजरिया चौराहे पर पहुंच गए।

पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि बंजरिया से करनपुर जाने वाले पक्के रोड के किनारे मोहम्मद रऊफ खां उर्फ नब्बा खां निवासी मिलक नगली के आम के बाग के करीब आठ लोग बाइक लिए खड़े हैं। सभी बाइक चोरी की हैं, जिन्हें वे बेचने की तैयारी में हैं। सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंची तो मिलक नगली जाने वाले खड़ंजे के पास आम के बाग में बाइक पर सवार आठ लोग दिखाई दिए। पुलिस को देखकर उन्होंने मौके से फरार होने का प्रयास किया। लेकिन, पुलिस ने घेराबंदी कर सभी आठ आरोपितों को आठ बाइकों के साथ गिरफ्तार कर लिया। बाइकों के कागजात के बारे में आरोपित स्पष्ट जवाब न दे सके।

पूछताछ करने पर आरोपितों ने अपने नाम थाना पटवई गांव ढोलसर मतवाली निवासी अफजाल पुत्र छोटे, संजय पुत्र रामचंद्र, चंद्रपाल पुत्र रूप लाल, अनिल कश्यप पुत्र बृजलाल, दिलीप पुत्र रोशन लाल, थाना कोतवाली के मुहल्ला मीठा कुंआ निवासी सिकंदर पुत्र शरीफ, थाना गंज के मुहल्ला कोतवालान निवासी सलीम अहमद पुत्र पप्पू खां उर्फ मोहम्मद अहमद, थाना सिविल लाइन के गांव अजीतपुर नई बस्ती निवासी कमरे आलम पुत्र मोहम्मद कुददूस होना बताए। उनसे बरामद एक बाइक पल्सर बिना नंबर प्लेट जिसके लाल रंग को काला कर दिया है। छह बाइक हीरो स्प्लेंडर, एक हीरो होंडा सीडी डीलक्स शामिल हैं। थाना प्रभारी अजयपाल सिंह ने बताया कि आरोपितों ने बरामद बाइकें दिल्ली, उत्तराखंड के काशीपुर, अमरोहा जिले के गजरौला, मुरादाबाद, स्वार तथा थाना अजीमनगर से चोरी की होना बताई हैं। जिन्हें वह बेचने जा रहे थे कि पुलिस ने पकड़ लिया। पुलिस टीम में उप निरीक्षक राम किशोर गौतम, उप निरीक्षक योगेश कुमार, सिपाही माधव कुमार, विकास कुमार, एसओजी प्रभारी, हैड कांस्टेबल सरफराज, हैड कांस्टेबल दीपक कुमार, सिपाही राहुल कुमार आदि मौजूद रहे।

Edited By: Vivek Bajpai