मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मुरादाबाद । जनपद सम्भल में भारतीय स्टेट बैंक असमोली शाखा में फर्जी चेक लगाकर 16.80 लाख रुपये के भुगतान की कोशिश हुई। प्रबंधक पारितोष को प्रथम दृष्टया चेक संदिग्ध लगा तो खाता धारक से बात कर चेक को होल्ड करवा दिया। इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए बैंक प्रबंधक ने पुलिस को तहरीर दी है।

भारतीय स्टेट बैंक की असमोली शाखा में कुछ दिन पहले रीना कुमारी के नाम से एक चेक कैश करने के लिए बाक्स में डाला। ड्राप बाक्स में पड़े इस चेक की संख्या 549988 व खाता संख्या 30011156703 था। खाता धारक राम कृपाल स‍िंह कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड रांची झारखंड था और चेक 16,80,930 रुपये का था। इसको रानी के नाम से खाता संख्या 37954024150 पर भुगतान करवाना था। महिला के पति का नाम फकरूद्दीन दर्ज था। बैंक को शक हुआ तो उसने खाता धारक से बात की। चूंकि जिस खाताधारक के खाते से भुगतान का चेक दिया गया था उसमें पहले से 153 करोड़ रुपये पड़े थे, जबकि खाते की लिमिट ही 850 करोड़ की है। ऐसे में सत्यता सामने आ गई। पता चला कि इस तरह का कोई भी चेक जारी नहीं किया गया। जबकि खाताधारक ने बताया कि कई मामले उसके खाते से जुड़े सामने आए है। बैंक में फोन करके रोका भी गया है। इसके बाद बैंक ने चेक को होल्ड करा दिया तथा रानी के बारे में तहकीकात के लिए काम किया। असमोली थाना पुलिस को मुकदमा दर्ज कराने के लिए शाखा प्रबंधक पारितोष ने तहरीर दे दी है। उनका कहना है कि चेक प्रथम दृष्टया ही फर्जी प्रतीत हो रहा था। इंस्पेक्टर रणवीर स‍िंह ने कहा कि जांच की जा रही है जल्द ही मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप