अमरोहा। गजरौला में स्वास्थ्य विभाग ने एंटीजन किट से जांच करने की रफ्तार तेज कर दी है। यही कारण है कि अब कोरोना का रूप विकराल होता जा रहा है। गजरौला, मंडी धनौरा व हसनपुर में पॉजिटिव केसों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है। शासन द्वारा अब कन्फर्म जांचें कम कराई जा रही हैं। चूंकि 20 जुलाई से जनपद की प्रत्येक सीएचसी पर रेपिड एंटीजन किट के माध्यम से जांच की जा रही हैं। विभाग द्वारा प्रत्येक अस्पताल को जांच करने का लक्ष्य भी दिया जा रहा है। इसलिए कोरोना के केस भी बढ़ते जा रहे हैं। वर्तमान में गजरौला क्षेत्र में 19, मंडी धनौरा में 41 व हसनपुर में 27 केस एक्टिव हैं।

खास बात है कि संख्या सिर्फ यहां पर ही रुकने की बात नहीं कही जा सकती है। चूंकि प्रत्येक सीएचसी में रोजाना 250 लोगों की एंटीजन किट से जांच की जा रही है। इससे रोजाना पॉजिटिव केस भी निकल रहे हैं। जैसे-जैसे जांच की रफ्तार बढ़ती जा रही है। उसी के हिसाब से कोरोना का रूप भी विकराल होता जा रहा है। इसलिए लोग सावधानी बरतते हुए कोरोना के बचाव को जारी की गई गाइडलाइन का पालन करते रहे। तभी कोरोना को हराया जा सकता है। सिर्फ नाम के ही हैं हॉटस्पॉट क्षेत्र, टूट रहे नियम गजरौला : भले ही कोरोना वायरस के केस बढ़ते जा रहे हो लेकिन, अब प्रशासन स्तर से उनकी निगरानी कम की जा रही है। यही कारण है कि हॉटस्पॉट क्षेत्रों में नियम तोड़े जा रहे हैं। गजरौला में नौ हॉटस्पॉट, मंडी धनौरा में 10 से अधिक व हसनपुर में 12 हॉटस्पॉट चिह्नित हैं। यहां पर न तो पुलिस का पहरा है और न ही स्वास्थ्य विभाग के कर्मी सर्वे के लिए पहुंचते हैं। सिर्फ औपचारिता निभाने के लिए बल्लियां लगाई जा रही हैं। एंटीजन किट से ज्यादा से ज्यादा जांच कराने पर जोर दिया जा रहा है। रोजाना ढाई सौ जांच की जा रही है। जांच बढ़ी तो केसों में बढ़ोत्तरी हो रही है। इसलिए लोग सावधान रहे। शासन की गाइड़लाइन का पालन करते रहे। डॉ. योगेंद्र सिंह, चिकित्सा अधीक्षक, गजरौला।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस