अमरोहा । बच्चों में हुआ विवाद इतना बढ़ा कि मौजूदा प्रधान पक्ष के लोगों ने क्रिकेटर मोहम्मद शमी की बहन की ससुराल पहुंचकर पथराव कर दिया। मारपीट व पथराव की घटना में सात महिलाओं समेत 24 लोग घायल हो गए। पुलिस ने बल प्रयोग कर मामला शांत कराया। पुलिस ने पूर्व व मौजूदा प्रधान को हिरासत में ले लिया लेकिन, पूर्व प्रधान शकील अहमद की हालत बिगडऩे पर उन्हें मुरादाबाद के अस्पताल में भर्ती कराया है।

यह था पूरा मामला 

यह घटना डिडौली कोतवाली क्षेत्र के गांव पलौला की है। यहां पर पूर्व प्रधान शकील अहमद का परिवार रहता है। क्रिकेटर मोहम्मद शमी की बहन उनकी पुत्रवधू हैं। फिलहाल वह अपने मायके में हैं। मंगलवार शाम को उनके परिवार के बच्चे गांव में स्थित तुर्की इंटर कालेज के मैदान में क्रिकेट खेल रहे थे। आरोप है कि वहां मौजूदा प्रधान मुजफ्फर अली के परिवार के बच्चे भी क्रिकेट खेलने पहुंच गए। दोनों पक्षों में खेलने को लेकर विवाद हो गया था। मामूली कहासुनी होने के बाद उस समय तो मामला शांत हो गया लेकिन, शाम को लगभग सात बजे फिर से उनके बीच विवाद बढ़ गया। आरोप है कि मुजफ्फर अली के परिवार का अशरफ अली अपने साथ परिवार के लोगों को लेकर शकील अहमद के घर पहुंच गया तथा पथराव शुरू कर दिया। बचाव में दूसरे पक्ष ने भी पथराव किया। इनके बीच जमकर मारपीट व पथराव हुआ। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंच गई थी।

सात मह‍िला समेत 24 लोग घायल 

दोनों पक्षों की तरफ से पुलिस की मौजूदगी में भी पथराव किया गया। बल प्रयोग कर पुलिस ने मामला शांत किया। इस घटना में दोनों पक्षों की तरफ से सात महिलाओं समेत 24 लोग घायल हुए हैं। घायलों में शकील प्रधान पक्ष की तरफ से शहनाज खातून, गुलेनाज, सना, अलकमा, निशा, संजीदा खातून, सेवानुसरा व नावेद शामिल हैं। दूसरे पक्ष की तरफ से अशरफ, नवाजिश, मोहम्मद यासिर, अदनान, नोमान, आसिफ, साबिर, तारिक, कादिर, शहबाज, रिजवान, अब्दुल सत्तार, वासिफ व जीशान को भी चोट लगी है। घायलों का उपचार विभिन्न अस्पतालों में कराया गया।

क‍िसी पक्ष द्वारा नहीं दी गई तहरीर 

पुलिस ने पूर्व व मौजूदा प्रधान को हिरासत में ले लिया था परंतु रात में ही पूर्व प्रधान शकील अहमद की हालत बिगडऩे पर उन्हें मुरादाबाद के अस्पताल में भर्ती करा दिया। इस मामले में दूसरे दिन भी किसी पक्ष द्वारा तहरीर नहींं दी गई है। प्रभारी निरीक्षक शरद मलिक ने बताया तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021