मुरादाबाद, जेएनएन। Bollywood Actress Sonakshi Sinha : धोखाधड़ी के मामले में शनिवार को अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट स्मिता गोस्वामी की अदालत ने फिल्म अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा समेत दो लोगों के खिलाफ वारंट जारी किए हैं। अब इस मामले की अगली सुनवाई 25 मार्च को होगी। उत्तर प्रदेश के जनपद मुरादाबाद की शिवपुरी कालोनी निवासी इवेंट मैनेजर प्रमोद शर्मा ने 30 सितंबर 2018 को इंडिया फैशन एंड ब्यूटी एवार्ड का कार्यक्रम श्री फोर्ट ऑडिटेरियम, दिल्ली में रखा था। इसमें तय तारीख पर सोनाक्षी सिन्हा नहीं पहुंची थीं। 

प्रमोद शर्मा ने कार्यक्रम में शामिल होने के लिए टैलेंट फुलऑन और एक्सीड एंटरटेनमेंट कंपनी के माध्यम से मशहूर फिल्म अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा से कार्यक्रम मेें बतौर मुख्य अतिथि आने के लिए करार किया था। इसके लिए सोनाक्षी ने प्रमोशनल वीडियो भी जारी किया था। सोनाक्षी सिन्हा ने कार्यक्रम में आने के लिए अलग-अलग किश्त में 29.92 लाख रुपये का भुगतान भी लिया। टैलेंट फुलआन के अभिषेक सिन्हा को छह लाख 48 हजार रुपये दिए गए थे। आरोप है कि तय तारीख को सुबह फोन कर सोनाक्षी सिन्हा के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए प्लेन का दूसरा टिकट कराया। लेकिन, वह कार्यक्रम में नहीं पहुंची। कार्यक्रम 120 ब्यूटी पार्लर संचालकों को सोनाक्षी सिन्हा के हाथों अवार्ड दिलाने का था।

काफी जद्दोजहद के बाद मुरादाबाद के तत्कालीन एसएसपी जे रविंद्र गौड के आदेश पर थाना कटघर थाने में मुकदमा दर्ज हुआ था। थाना कटघर के वरिष्ठ उप निरीक्षक बिजेंद्र सिंह कानूनी राय लेकर इस मामले में 20 मई 2020 को धोखाधड़ी के आरोप में चार्जशीट कोर्ट में दाखिल कर दी थी। प्रमोद कुमार के अधिवक्ता पीके गोस्वामी ने बताया कि यह मुकदमा एसीजेएम की अदालत में चल रहा है। सोनाक्षी सिन्हा ने चार्जशीट लगने के बाद हाईकोर्ट से स्टे ले रखा था। लेकिन, स्टे छह महीने तक ही वैध था। उन्होंने इस संबंंध में अदालत के सामने अपना पक्ष रखा। अदालत ने इसके बाद सोनाक्षी सिन्हा और अभिषेक सिन्हा के खिलाफ वारंट जारी कर दिए हैं।

इनके खिलाफ चल रहा है मुकदमाः सोनाक्षी सिन्हा निवासी 49, रामायण, 9 वां मार्ग जेवीपीडी योजना, जुहू नवी मुंंबई, अभिषेक सिन्हा स्वामी टैलेंट फुलआन निवासी छत्रपति शिवाजी राजे काम्पलेक्स महादा कांदीवली, पश्चिमी मुंबई, एक्सीड एन्टरटेनमेंट, सिल्वर पल, वाटरफील्ड रोड बांद्रा वेस्ट, मुंबई निवासी मालविका पंजाबी, धूमिल ठक्कर, एडगर सकारिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था।

Edited By: Samanvay Pandey