रामपुर, जेएनएन। Rampur SP Ankit Mittal Corona infected : जिले में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो गया है। इसकी चपेट में आम आदमी से लेकर सरकारी कर्मचारी और अधिकारी भी आ रहे हैं। सोमवार को आई रिपोर्ट में पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल समेत 260 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। पुलिस अधीक्षक के संक्रमित होने से दूसरे अधिकारियों और कर्मचारियों में भी खलबली मच गई है। विधानसभा चुनाव को लेकर पुलिस अधीक्षक रोजाना ही बैठकों में शामिल हो रहे थे। दो दिन पहले अपर पुलिस महानिदेशक बरेली राजकुमार भी यहां आए थे।

उन्होंने भी एसपी के साथ समस्त क्षेत्राधिकारियों और थाना प्रभारियों के साथ चुनाव काे लेकर बैठक की थी। स्वास्थ्य विभाग को सोमवार को मिली जांच रिपोर्ट में पुलिस अधीक्षक के अलावा आवास पर एक अन्य कर्मचारी भी संक्रमित पाया गया है। इसके अलावा पुलिस लाइन, सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र टांडा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सैदनगर आदि में भी कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एसपी सिंह ने बताया कि 84 पुराने मरीज ठीक हो गए हैं। उनकी आइसोलेशन अवधि पूरी हो गई है। वर्तमान में जिले में 1472 सक्रिय मरीज रह गए हैं।

रामपुर के मिलक में कोरोना संक्रमित मिलने का टूटा रिकार्ड : कोरोना महामारी को लेकर लोगों की लापरवाही के नतीजे अब सामने आने लगे है। नगर में रविवार को आई रिपोर्ट में 107 व्यक्ति कोरोना से संक्रमित पाए गए। एक दिन में सौ से ज्यादा पाजिटिव मिलने पर स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई। कोरोना की पहली और दूसरी लहर में भी नगर में पाजिटिव व्यक्तियों की संख्या एक दिन में सौ के पास नहीं पहुंची थी। मगर कोरोना की तीसरी लहर में पाजिटिव होने के सारे रिकार्ड टूट गए। भारी संख्या में पाजिटिव केस मिलने पर स्वास्थ्य विभाग ने सभी संक्रमितों को होम क्वारंटाइन कर दिया।

उन्हें दवा की किट उपलब्ध कराई गईं। नगर के मुहल्लों में कोरोना संक्रमित मरीजों के घरों के बाहर एंबुलेंस और स्वास्थ्य कर्मियों को देखकर लोगों में दहशत फैल गई। आनन-फानन में लोगों ने अपने घरों के दरवाजे बंद कर लिए। सड़कें और गलियां सुनसान हो गईं। कोरोना कहीं उनके घरों में दस्तक न दे दे, इसके लिए लोगों ने कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के दरवाजे के बाहर से जाना भी बंद कर दिया। पीएचसी प्रभारी डा.मोहित रस्तोगी ने बताया कि एक दिन में सौ से अधिक कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। सभी संक्रमित व्यक्तियों को होम क्वारंटाइन कर दिया गया है।

उन्हें कोरोना किट उपलब्ध करा दी गई है। एसडीएम देवेंद्र प्रताप ने बताया कि कोरोना संक्रमित पाए गए व्यक्तियों के मुहल्लों को कंटेंमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी को इन संक्रमित व्यक्तियों के मुहल्लों को बल्लियों से बंद करने के लिए कहा गया है। जानकारी मिली है कि कुछ कोरोना संक्रमित नगर में घूम रहे हैं। ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Samanvay Pandey