रामपुर। जिला सहकारी बैंक की 31वीं वार्षिक सामान्य निकाय बैठक में पहुंचे सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा कि किसान साहूकारों के चक्कर में न पड़ें। वे अपने क्षेत्र की बैंकों व समितियों से संपर्क कर लाभ उठाएं। इसके अलावा सरकार द्वारा उनके हित में विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही हैं। उन योजनाओं का लाभ लेकर भी वे उन्नति का मार्ग प्रशस्त कर सकते हैं। इस दौरान उन्होंने बैंक के कार्यों की प्रशंसा भी की। कहा कि बैंङ्क्षकग के इतिहास में जहां एनपीए शून्य हो। जिस बैंक में सारे खाते काम कर रहे हों, वह बैंक सबसे अच्छा माना जाता है। लाभ या हानि में होना इतना महत्वपूर्ण नहीं है। महत्वपूर्ण यह है कि बैंक के सारे खाते देनदारी का काम कर रहे हैं। राज्यमंत्री बलदेव औलख ने सहकारिता विभाग और बैंक के अधिकारियों को निर्देश दिए कि समिति में आने वाले किसानों एवं खाताधारकों को पूरा सम्मान दें। 

नागरिकता कानून को लेकर भ्रम दूर करने की जरूरत

कार्यक्रम से पहले प्रेसवार्ता में सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने नागरिकता कानून को लेकर बात की। कहा कि आज नागरिकता कानून को लेकर तरह तरह की बातें बनाई जा रही हैं। हम चाहते हैं कि इस कानून की वास्तविकता प्रत्येक नागरिक तक जानी चाहिए, जिससे भ्रम की स्थिति दूर हो सके। उन्होंने कहा कि यह कानून नया नहीं, बल्कि बहुत पहले का है। समय-समय पर कानूनों में संशोधन किए जाते रहते हैं। इस कानून में शरणार्थियों के लिए छूट दी जा रही है। उन्हें अब 11 नहीं, बल्कि पांच साल में ही नागरिकता मिल जाएगी। इसके लिए उन्हें विभिन्न कागजों की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।  

 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस