जागरण संवाददाता, मुरादाबाद। Moradabad Exhibition : विदेशी ब्रांडों को बड़े सम्मान से देखा जाता है। कोई विदेश से घड़ी, जूते या अन्य सामान ले आए तो दोस्तों में चर्चा हो जाती है। हमारे देश में भी बहुत ऐसे उत्पाद तैयार होते हैं, जिनको विदेशों को निर्यात किया जाता है और लोग उन्हें ही दूसरे देशों से खरीद लाते हैं।

उनकी ब्रांडिंग नहीं हो पाने के कारण विदेशी वस्तुओं की तरफ सम्मान नहीं मिल पाता है। शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्थानीय उत्पादों की ब्रांडिंग करके सम्मान दिलाने के लिए पहल करने जा रहे हैं। इसके लिए मुरादाबाद के संयुक्त आयुक्त कार्यालय पीएसी के पास वोकल फार लोकल कार्यक्रम का आयोजन हो रहा है।

दस दिन तक चलेगी प्रदर्शनी

इसमें प्रदेश एवं जिला स्तर पर लोगों को स्थानीय उत्पादों व व्यवसायों को बढ़ावा देने के लिए दस दिवसीय एक जनपद एक उत्पाद प्रदर्शनी लगाकर प्रेरित किया जाना है। संयुक्त आयुक्त उद्योग योगेश कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री की जन्मतिथि के अवसर पर 17 सितंबर से दो अक्टूबर तक मध्य विभिन्न विभागों द्वारा सेवा पखवाड़ा का आयोजन किया जा रहा है।

वोकल फॉर लोकल का होगा आयोजन

जिसमें सभी विभागों द्वारा विभिन्न कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं। इसी क्रम में जिला उद्योग प्रोत्साहन तथा उद्यमिता विकास केन्द्र, मुरादाबाद द्वारा वोकल फार लोकल कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान लगने वाली प्रदर्शनी शुक्रवार को शुरू होगी। प्रदर्शनी दो अक्टूबर तक चलेगी।

जानें कौन करेगा प्रदर्शनी का उद्घाटन

प्रदर्शनी के उद्घाटन सत्र में महापौर विनोद अग्रवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष डा. शैफाली सिंह, समेत कई नेता रहेंगे। सांसद, विधायकों एवं अन्य जनप्रतिनिधियों से भी उद्घाटन सत्र में उपस्थिति रहने का अनुरोध किया गया है।  आयोजन मंडलायुक्त आन्जनेय सिंह, जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिहं, मुख्य विकास अधिकारी आनंद वर्धन के निर्देशन में होगा।

प्रदर्शनी में लखनऊ का चिकन भी मिलेगा

प्रदर्शनी में आगरा का मार्बल हैंडीक्राफ्ट, लखनऊ का चिकन वस्त्र, बुलंदशहर का सिरेमिक, बिजनौर का वुडवर्क, भदोही का कालीन, अमरोहा का वाद्य यन्त्र, बरेली का जरी-जरदोजी, खादी ग्रामोद्योग के वस्त्र व शहद, हैंडलूम की दरी व चादरों आदि व विभिन्न जिलों के उत्पादों की प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है।

प्रदर्शनी में राष्ट्रपति से सम्मानित शिल्पगुरू दिलशाद हुसैन द्वारा निर्मित धातु शिल्प के उत्पादों का भी प्रदर्शन किया जायेगा। देर रात तक प्रदर्शनी के लिए स्टाल बनाए जाने का काम चलता रहा। संयुक्त आयुक्त योगेश कुमार ने कई बार स्टाल बनाए जाने वाले स्थल का निरीक्षण किया।

Edited By: Samanvay Pandey