मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। Cancer symptoms and causes : हमारी बदलती जीवनशैली से बीमारियां बढ़ रहीं हैं। कैंसर बीमारी फैलने के दौरान कई लक्षण छोड़ती है। इसलिए शरीर में किसी भी तरह का परिवर्तन होता है तो फौरन ही चिकित्सक से परामर्श लें। रविवार को दैनिक जागरण कार्यालय में हेलो डाक्टर कार्यक्रम में आए कैंसर रोग विशेषज्ञ डाॅ. सत्यवीर चौहान ने पाठकों के सवालों के जवाब दिए।

उन्होंने बताया कि शरीर की हर गांठ कैंसर नहीं है लेकिन, शरीर में अगर परिवर्तन होता है तो उसे नजरअंदाज न करें। चिकित्सक से परार्मश करें। समय से जांच होने से बीमारी को पूरी तरह खत्म किया जा सकता है। इसलिए इसमें लापरवाही नहीं बरतें।

कैंसर के खतरे को ऐसे कम करें : तंबाकू उत्पादों का प्रयोग न करें, शराब का सेवन न करें, कम वसा वाला भोजन करें, सब्जी, फलों और सभी अनाज का उपयोग अधिक करें, नियमित व्यायाम करें। 

कैंसर से बचाएंगी ये चीजें : नियमित पत्तेदार सब्जियाें का सेवन करें, मौसमी फलों का सेवन करें,  ड्राइ फ्रूट्स का इस्तेमाल करें,  शक्कर, प्रोसेस्ड, पैक्ड और जंकफूड से परहेज करें, महिलाएं गर्भनिरोधक गोलियों का प्रयोग लंबे समय तक न करें, वातावरण में फैल रहे प्रदूषण से बचने के उपाय करें, बाहर मास्क लगाकर ही निकलें, नियमित सात से आठ घंटे की नींद लें, नियमित 45 मिनट की एक्सरसाइज-योग जरूर करें। 

कैंसर के लक्षण और कारण : धूमपान, आरामतलब जीवनशैली, गलत खानपान और मोटापा, अल्ट्रावायलेट किरणें, इंफेक्शन, आनुवांशिक कारण, मरीज के पेशाब में बदलाव, गले में खराश, खाना निगलने में कठिनाई, शरीर के मस्सों, तिल के रंग व आकार में बदलाव, मरीज का अचानक वजन बढ़ना व घटना शुरू हो जाना, ज्यादा थकान, उल्टी, बार-बार, बुखार व बीमार पड़ते हैं तो कैंसर विशेषज्ञ से परामर्श लेंं।

इन्होंने पूछे सवाल : विवेकानंद से सोमवती, अगवानपुर कोकरपुर से विपिन कुमार, पीतलबस्ती से रामनिवास, कांशीराम नगर से मनोज यादव, बुद्धि विहार से संजय शर्मा, चंद्रनगर से गौरव कुमार, आशियाना कालोनी से आधार सिंह, सम्राट अशोक नगर से संजना, लाइनपार से राकेश कुमार, लाइनपार से काव्या सुयाल, दलपतपुर सिरसखेड़ा से नन्हें, मूंढापांडे से मुहम्मद आकिब आदि ने सवाल पूछे। 

Edited By: Narendra Kumar