मुरादाबाद, जेएनएन। बजट में रेलवे को लेकर हुई घोषणा के बाद मुरादाबाद होकर तेज रफ्तार से चलने वाली तेजस व वंदे भारत एक्सप्रेस चलने की संभावनाएं बढ़ गई हैं। हालांकि इसके लिए दो साल तक का इंतजार करना पड़ेगा। जुलाई तक रेल मंडल में विद्युतीकरण का काम पूरा हो जाएगा और अगस्त से डीजल इंजन से ट्रेनों को चलाना बंद कर दिया जाएगा। 

बजट में दैनिक व गरीब यात्रियों के लिए कुछ नहीं है लेकिन, तेज गति से चलने वाली तेजस, वंदे भारत एक्सप्रेस चलने की घोषणा जरूर हो गई है। मुरादाबाद रेल मंडल में ट्रेनों को अधिकतम 110 किलो मीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलाया जा सकता है। तेजस व वंदे भारत एक्सप्रेस की न्यूनतम गति 130 किलो मीटर प्रति घंटा है। मुरादाबाद रेल मंडल में तेज गति से पुरानी लाइन को बदलने और तीव्र गति से ट्रेनों को चलाने वाली लाइन व स्लीपर लगाने का काम किया जा रहा है। इस कार्य में दो साल का समय लगेगा। उसके बाद मुरादाबाद होकर जम्मूतवी, अमृतसर, हावड़ा, लखनऊ, दिल्ली आदि स्थानों के लिए तेजस व वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन चलाई जाएंगी। 

मार्च तक सभी स्टेशन हो जाएंगे वाई-फाई युक्त 

बजट में सौ दिन में पांच सौ स्टेशनों पर वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध कराने की घोषणा की गई है। इस घोषणा के बाद रेल मंडल के सभी स्टेशन 31 मार्च तक वाई-फाई सुविधा युक्त हो जाएंगे। मुरादाबाद रेल मंडल में हॉल्ट स्टेशन को छोड़कर 134 रेलवे स्टेशन हैं। जिसमें 112 स्टेशनों पर वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध है। 22 स्टेशनों पर वाई-फाई मार्च तक लग जाएगा।

जुलाई के बाद नहीं चलेगा डीजल इंजन 

बजट में 27 हजार किलो मीटर विद्युतीकरण करने की घोषणा की है। इस घोषणा से मुरादाबाद रेल मंडल में शेष बचे मार्ग पर विद्युतीकरण के काम को गति मिलेगी। अगस्त से मंडल में डीजल इंजन चलने बंद हो जाएंगे। 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस