अमरोहा, जेएनएन। सिर फिरे जीजा 13 वर्षीय साली व साले को कार में बैठाकर वन विभाग के जंगल में ले गया। वहां  रस्सी से बांधकर बेरहमी से पीटा। साली के शोर मचाने पर खेतों में काम कर रहे लोगों ने किशोरी की जान बचाई। यह वीडियो वायरल होने पर हड़कंप मच गया। पुलिस ने आरोपित को हिरासत में ले लिया है। 

सुनसान जंगल में हाथ पैर बांधकर की पीटा

जनपद सम्भल के थाना असमोली के गांव चंदपुरा निवासी योगित त्यागी की थाना सैदनगली के सैदरा मिलक गांव में ससुराल है। रविवार की दोपहर बाद योगित अपनी 13 वर्षीय साली रीना तथा 12 वर्षीय साले अवनीत को कार में बैठाकर ले गया। आदमपुर थाना क्षेत्र के गांव ढेंकला के वन विभाग के सुनसान जंगल में ले जाकर रीना के रस्सी से हाथ पैर बांधकर पिटाई करने लगा। 

छोटे भाई के शोर मचाने जंगल में काम कर रहे लोगों ने बचाया

रीना एवं उसके भाई अवनीत के शोर मचाने पर आसपास के खेतों में काम कर रहे लोग मौके पर पहुंच गए। लोगों ने आरोपित को पकड़ लिया तथा रस्सी से बंधी लड़की की वीडियो बनाकर वायरल करने के साथ ही 112 टीम को बुलाकर आरोपित को पुलिस के हवाले कर दिया। 

वीडियो वायरल होने के बाद मचा हड़कंप

किशोरी को बांधकर बेरहमी से पीटने की वीडियो वायरल होने से हड़कंप मच गया। सूचना पाकर किशोरी के परिजनों ने थाने पहुंचकर घटना की जानकारी ली। पुलिस ने किशोरी के पिता सतीश त्यागी की तहरीर पर मुकदमा कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है। वरिष्ठ उप निरीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि किशोरी को रस्सी से बांधकर पीटने के मामले में मुकदमा कायम कर जांच की जा रही है।

...तो चाबी छिपाने की सजा दे रहा था योगित

किशारी को बीहड़ जंगल में ले जाकर रस्सी से बांधकर पीटने की बात पूछे जाने पर आरोपित कार की चाबी छिपाने की वजह बता रहा है। हालांकि यह बात पुलिस व लोगों के गले नहीं उतर रही है। योगित का कहना है कि वह अपनी पत्नी को कार से पेपर दिलाता है। शनिवार को उसकी कार की चाबी बच्चों ने छिपा दी थी। रविवार को चाबी किशोरी ने ही उसे दी थी। पुलिस दूसरे बिंदुओं भी जांच पड़ताल कर रही है। 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस