मुरादाबाद। एक बार फिर जिले में सियासत का पारा चढ़ सकता है। पूर्व भारतीय क्रिकेटर व पूर्व सांसद मुहम्मद अजहरुद्दीन इस बार ईद मनाने के लिए मुरादाबाद आ रहे हैं। ईद की नमाज के बाद वह कार्यकर्ताओं से वार्ता करेंगे। कार्यक्रम मिलने के बाद हर कार्यकर्ता उत्साह से लबरेज है। तैयारी में जुटे कांग्रेसी

राजनीति में हर घटनाक्रम के अपने अलग मायने होते हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए बिसात बिछ चुकी है और सभी पार्टियां जीत के लिए समीकरण बनाने में जुट गई हैं। ऐसे में पूर्व सांसद अजहरुद्दीन मुरादाबाद में आकर ईद मनाने जा रहे हैं। उनके साथ बेटा भी आएगा। इसके भी राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं। इस दौरान वह ईद की नमाज अदा करेंगे और फिर लोगों से मिलकर ईद बधाई देंगे। उत्साहित कार्यकर्ता भी उनके आगमन को भव्य बनाने की तैयारी में जुट गए हैं। अजहर ने किया था कांग्रेस की जीत का सूखा खत्म

अजहरुद्दीन वर्ष 2009 से 2014 तक मुरादाबाद से सांसद रह चुके हैं। अजहरुद्दीन की जीत से कांग्रेस का 25 वर्ष के लंबे अंतराल से चला आ रहा जीत का सूखा खत्म हुआ था। 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्हें कांग्रेस ने मुरादाबाद के बजाय राजस्थान की माधोपुर सीट से मैदान में उतारा था, लेकिन वह जीत हासिल नहीं कर सके। एक बार फिर से समीकरण अपने पक्ष में करने के लिए उन्हें यहां से मैदान में उतारा जा सकता है। काग्रेस के नेता भी उनके चुनाव लड़ने की संभावना से इन्कार नहीं कर रहे हैं। गठबंधन से स्थिति अभी साफ नहीं

2019 के लोकसभा चुनाव में महागठबंधन की संभावनाएं जताई जा रही हैं। अगर कांग्रेस गठबंधन में चुनाव लड़ती है तो कौन सी सीट उसके हिस्से आएगी यह नहीं कहा जा सकता। मुरादाबाद में मुस्लिम वोट के प्रभाव को देखते हुए अजहरुद्दीन का दाव खेलकर वह इस सीट पर दावेदारी जता सकती है। ये बोले जिलाध्यक्ष

कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ.एपी सिंह ने कहा कि पूर्व सांसद के ईद पर मुरादाबाद में आने का कार्यक्रम मिल चुका है। उनके आगमन को लेकर तैयारियां चल रही हैं। इस दौरान वह महानगर के लोगों से मुलाकात करेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप