मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। जीवनदायिनी एंबुलेंस सेवा 108-102 के कर्मचारियों का आंदोलन दूसरे दिन भी जारी है। पाकबड़ा जीरो प्वाइंट पर सुबह से ही एंबुलेंस पायलट और इमरजेंसी मेडिकल तकनीशियन नारेबाजी करते रहे। आज भी जिले में सिर्फ पांच एंबुलेंस ही सक्रिय हैं। इसमें कांठ, मूंढापांडे, डिलारी, कुंदरकी, जिला अस्पताल में 108 वाली एंबुलेंस के नंबर डाक्टर और सीएमओ कार्यालय को गंभीर मरीजों के लिए दिए गए हैं।

जिले में 108 की 30 एंबुलेंस और 102 की 24 एंबुलेंस और तीन एएलएस एंबुलेंस हैं। इन एंबुलेंस पर करीब 256 कर्मचारी मुरादाबाद में हैं। प्रदेशभर के संगठन पदाधिकारी लखनऊ मुख्यालय पर प्रदर्शन कर रहे थे। सोमवार को कर्मचारियों को समायोजित करने का मौखिक आदेश तो मिल गया। लेकिन, कर्मचारी लिखित आदेश की डिमांड पर अड़े हैं। बताया गया कि पूरे प्रदेश में एक हजार कर्मचारियों को समायोजित करने का भरोसा दिलाया गया है। इसमें हरवेंद्र कुमार, सुरेंद्र सिंह, आकाश कुमार, राजवीर सिंह, रिजवान आलम समेत तमाम कर्मचारी हड़ताल पर हैं।

एंबुलेंस कर्मचारियों की हड़ताल थी। सोमवार में मौखिक रजामंदी की जानकारी तो हुई है। लेकिन, एंबुलेंस कर्मचारियों का कहना है कि जब तक लिखित पत्र नहीं मिल जाता तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

डा. एमसी गर्ग, मुख्य चिकित्सा अधिकारी 

जिले में कोरोना से राहत के बाद भी टेस्टिंग पर जोर : रामपुर में  कोरोना संक्रमण का असर कम होने लगा है। मात्र चार मरीज रह गए हैं। इनकी भी हालत ठीक है, जिसके चलते सभी को होम आइसोलेशन में रखा है। बावजूद इसके स्वास्थ्य विभाग कोई कोताही नहीं कर रहा। ट्रेसिंग और टेस्टिंग पर ज्यादा जोर है। रोजाना दो हजार से ज्यादा लोगों की कोरोना जांच की जा रही है। अधिकारी लोगों से अब भी सावधानी बरतने की अपील कर रहे हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संजीव यादव बताते हैं कि कोरोना को लेकर फिलहाल स्थिति में बहुत सुधार है। लेकिन, अभी खतरा टला नहीं है। कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना है। ऐसे में हम पूरी सतर्कता बरत रहे हैं। बाहर से आने वालों पर नजर रखी जा रही है। ऐसे लोगों को ट्रेस करके उनकी जांच कराई जा रही है। जांच में संक्रमित मिलने वालों को आइसोलेट किया जा रहा है। रोजाना दो हजार से ज्यादा लोगों की जांच की जा रही है। रविवार को भी 2159 लोगों की जांच की गई। इसमें एक युवक कोरोना संक्रमित मिला। उन्होंने लोगों से अपील की है कि कोरोना को लेकर अभी लापरवाही न करें। पूरी सावधानी रखें। मास्क जरूर लगाएं और सही तरह से लगाएं। 

Edited By: Narendra Kumar