मुरादाबाद: अमन कमेटी की बैठक में कहीं न कहीं विरोध नजर आया तो अफसरों ने नई परंपरा शुरू करने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी। साथ ही, बिजली पानी व सफाई की समस्याएं दूर कराने का आश्वासन दिया।

गूंजा बिजली-पानी दिलाने का मुद्दा -ठाकुरद्वारा में रमजान को लेकर अमन कमेटी की मीटिंग में आधी से बिजली गुल होने, रमजान में पानी दिलाने के साथ अतिक्रमण का मुद्दा उठा। एसडीएम सभागार में रमजान के मद्देजनर शाति समिति की बैठक बुलाई गई थी। संभ्रात लोगों ने ग्रामीण क्षेत्रों में आधी के बाद बिजली गुल होने की समस्या उठाई। करीब तीन सौ गावों में रविवार से पूरी तरह अंधेरा छाया है। इसके साथ ही पानी की भी समस्या बनी है। कुछ गावों में तो पिछली आधी के बाद भी आपूर्ति चालू नहीं हो सकी थी। आपूर्ति कब तक चालू हो जाएगी। एसडीओ गौरव प्रकाश के पास कोई निश्चित जवाब नहीं था। उन्होंने कहा कि बिजली लाइनों का नुकसान च्यादा है। फिर भी विभाग प्रयासरत है, हालाकि गावों की आपूर्ति कब तक बहाल हो जाएगी निर्धारित समय सीमा नहीं बता सके। इसके साथ ही तिकोनिया, कदीर तिराहा पर बेतरतीब फड़ ठेला और वाहनों के खड़े होने से यातायात की समस्या उठाई गई। बाजार में भी अतिक्रमण के साथ नाले-नालियों पर अतिक्रमण के चलते जल निकासी की समस्या से अवगत कराया। कोतवाल मनोज कुमार ने अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाने का आश्वासन दिया। तहसीलदार प्रदीप कुमार, हाजी मुख्तार सैफी, मयंक सिंघल, हास्य कवि शरीफ भारती, काग्रेस महासचिव जहागीर कुरैशी, मुशाहिद चौधरी, मौलाना अब्दुर्रहमान, गौरव वर्मा, जुनैद आलम, अबरार सैफी, रवि प्रकाश अग्रवाल, प्रिंस भारद्वाज, हर्षित शर्मा, आशू वाल्मीकि, राजशेखर, एसएसआइ अजयवीर आदि थे। नई परंपरा डालने वालों पर होगी कार्रवाई -कांठ थाने में क्षेत्र के सभ्रांत लोगों की बैठक रमजान में नई परंपरा कायम करने से बचने की हिदायत की गई। उपजिलाधिकारी हिमांशु वर्मा ने कहा कि शरारती तत्व भोले-भाले लोगों से नई परंपरा अपनाने का दबाव डालते हैं। ऐसे लोगों से सावधान रहना है अगर कोई व्यक्ति इस तरह की शरारत करता है तो उसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी जाए। उन्होंने कहा कि रमजान इबादत के लिए है। सभी लोगों को मिल जुलकर रहना चाहिए। तहसीलदार खालिद अंजुम ने कहा कि अगर किसी गांव में बिजली पानी की व्यवस्था बदहाल है और सफाई व्यवस्था ठीक नहीं है तो अवगत कराएं। रमजान व्यवस्थाएं दुरूस्त कराई जाएंगी। प्रभारी निरीक्षक सतेंद्र सिंह, कुंवर सुरेंद्र सिंह, दिनेश पहलवान, रामफल सिंह यादव, डॉ. कमल सिंह, खलील अहमद, शहजाद अली, फुरकान अली, डॉ. अंगद ंिसह, बली अहमद, विजेंद्र यादव, शाकिर हुसैन, विकास शर्मा, परवेज आदि उपस्थित रहे। चंद्र सालार की दरगाह पर नई परंपरा शुरू करने का विरोध -बिलारी थाना क्षेत्र के रौजा गाव के जंगल में स्थित चंद्र सालार की मजार पर पंद्रह मई को उर्स करने का ग्रामीणों ने विरोध किया और कोतवाली प्रभारी को ज्ञापन दिया है।

ग्रामीणों ने कहा कि मजार पर अकीदतमंद आते जाते हैं। वहा आज तक मिलाद शरीफ और उर्स आदि का आयोजन नहीं हुआ है। इस मर्तबा उर्स किया गया जो नई परंपरा है। कहा है कि नयी परंपरा शुरू होने की सूचना पर दूसरे वर्ग के लोग वहा आए और ऐसा करने को मना किया। इकरार पुत्र बशीर आदि ने आयोजन नहीं करने का आश्वासन दिया है। इसके बाद भी शाम चार बजे वहा खिचड़ी बनाकर बाटी गई और जमा भीड देख उसे उर्स का नाम दे दिया गया। बिना अनुमति के नई परंपरा करने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाये और आगे के लिए इसे नहीं होने दिया जाये।

सभासद रानू चौधरी, हरौरा के प्रधान पूरन सिंह, सुनील कुमार, जगतपाल, अशोक कुमार, सुखराम सिंह, अरविंद कुमार, कुंवरपाल सिंह, रामकुमार, धीरेंद्र, मलखान सिंह, ओमवीर सिंह, सत्यभान, राजेश कुमार, राजपाल आदि के हस्ताक्षर हैं। कोतवाली प्रभारी कमरूल हसन खा ने जाच कराने का आश्वासन दिया है।

By Jagran