जागरण संवाददाता, मुरादाबाद। Air Pollution in Moradabad : मौसम के साथ ही महानगर की हवा में प्रदूषण का स्तर भी बदल रहा है। मंगलवार को तेज हवाा चलने के कारण प्रदूषण का स्तर नीचे गिरा और हवा का गुणवत्ता सूचकांक ग्रीन जोन में पहुंच गया। हवा रुकते ही बुधवार को प्रदूषण का स्तर फिर से बढ़ गया।

मुरादाबाद में दो जगह ग्रीन जोन

हालांकि, महानगर के दो स्थान पर अभी ग्रीन जोन में है। दीपावली के बाद से वायु प्रदूषण का स्तर खतरनाक जोन में पहुंच गया था। इसके बाद हवा में घुले प्रदूषण का स्तर धीरे-धीरे कम होने लगा। हवा चलने के कारण एक्यूआइ येलो जोन में पहुंच गया। इसके बाद प्रदूषण का स्तर स्थिर हो गया।

वायु गुणवत्ता सूचकांक 97 अंक पर 

मंगलवार को तेज हवा व हल्की बूंदाबांदी होने पर वायु का गुणवत्ता सूचकांक 97 अंक पर आकर हल्के ग्रीन जोन में आ गया।बुधवार को मौसम बदला और हवा नहीं चली। तड़के थोड़ा कोहरा छाए रहने के बाद धूप खिली। इससे सुबह के समय में प्रदूषण का रंग स्तर बढ़ा, लेकिन दोपहर बाद थोड़ा-थोड़ा कम हुआ और येलो जोन में गया।

चार जगह येलो जोन में

देर शाम तक एक्यूआइ 110 रहा। दो स्थान पर वायु प्रदूषण नियंत्रण (हल्के ग्रीन जोन) में है। जिसमें बुद्धि विहार 90 एक्यूआइ और हर्बल पार्क 96 एक्यूआइ है। जबकि, चार स्थान पर अभी येलो जोन में शामिल है। इसमें विवेकानंद अस्पताल के नजदीक हवा का गुणवत्ता सूचकां 129, जिगर कालोनी 123, कांशीराम नगर 113 और ट्रांसपोर्ट नगर 122 रहा।

पीम 2.5 और पीएम 10 की क्या है स्थिति

वहीं, जबकि हवा में धातु के महीन कण पीएम 2.5 और पीएम 10 की स्थिति भी सामान्य रही। बुधवार को पीएम 2.5 94 रहा। जबकि पीएम 10 का स्तर 86 दिखा रहा था। जो अभी खतरे के निशान से काफी नीचे है। क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी विकास मिश्रा ने बताया कि महानगर में वाहन व उड़ने वाले धूल का प्रदूषण है।

मौसम बदलने पर घट-बढ़ रहा वायु प्रदूषण

मौसम बदलने पर प्रदूषण घटता बढ़ता है। मंगलवार को तेज हवा के साथ बूंदाबांदी के कारण हल्के ग्रीन जोन में प्रदूषण पहुंच गया था। बुधवार को हवा शांत होने के कारण प्रदूषण अपने स्थिति येलो जोन में पहुंच गई है।

Edited By: Samanvay Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट