मुरादाबाद। एक दिन पहले दुल्हन बनकर झांझनपुर आई युवती लुटेरी निकली। खाने में नशीला पदार्थ खिलाकर पति समेत सभी ससुरालियों को बेहोश कर दिया। नकदी और जेवर समेट कर फरार हो गई। आरोपित युवती बरेली की रहने वाली बताई जा रही है। पुलिस ने तलाश शुरू कर दी है। 

थाना सिविल लाइंस क्षेत्र के झांझनपुर निवासी वीरू सैनी का बेटा संजय सैनी (32) होटल में काम करता है। एक महीने पहले संजय की मां शारदा की मौत हो गई। इसके बाद से घर में खाना बनाने वाला कोई नहीं था। सम्भल के एक रिश्तेदार ने संजय का रिश्ता बरेली की युवती से करा दिया। उसने युवती का नाम पूजा बताया। शादी की बाद तय होने पर पूजा के साथ एक महिला और अन्य लोग भी दो अगस्त को यहां आ गए। महिला खुद को पूजा की मौसी बता रह थी। रिश्ता करते समय उसने संजय के पिता से 35 हजार रुपये भी लिए। झांझनपुर के मंदिर में संजय की पूजा से शादी हुई। सात फेरे लेने के बाद वह विदा होकर ससुराल पहुंच गई। संजय और उसके परिवार वालों ने बिचौलिया पर इतना भरोसा किया कि पूजा का घर भी नहीं देखा, पता भी नहीं पूछा। शादी के बाद नई नवेली दुल्हन घर में आने से परिवार में खुशी का माहौल था। संजय की बहनें और भांजे- भांजियां भी घर पर थे। शनिवार रात दुल्हन ने अपने हाथ से परिवार के लिए खाना बनाया। इसमें कढ़ी, चावल और आलू की सब्जी थी। इसमें उसने नशीला पदार्थ मिला दिया। खाना खाने के आधा घंटे में ही परिवार के सभी सदस्य बेहोश हो गए। लुटेरी दुल्हन घर में रखी 16 हजार की नकदी, सोने की चेन, कुंडल, पैंडल समेत अन्य जेवर समेट कर फरार हो गई। 

रविवार सुबह संजय का भाई प्रदीप उठा तो परिवार के सदस्यों को बेहोशी की हालत में पाया। घर से दुल्हन गायब थी। नशीला खाना खाने से संजय, उसकी बहन मंजू पत्नी सोनपाल व लक्ष्मी पत्नी विनोद निवासी फिरोजपुर सम्भल, लक्ष्मी की बेटी चंचल (17) और बेटे अंकित (13) बेहोश थे। इन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। सिविल लाइंस एसएचओ शक्ति सिंह ने जिला अस्पताल पहुंच कर पीडि़त परिवार से बातचीत करके घटना की जानकारी ली। उन्होंने बताया तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

सम्भल के बिचौलिए ने कराई थी शादी 

दूल्हे के भाई प्रदीप ने बताया कि संजय शादी कर घर बसाने के लिए काफी समय से तैयारी कर रहा था। इसी बीच पिता वीरू ने सम्भल में रहने वाले रिश्तेदार से बात की। रिश्तेदार बिचौलिया बना और बरेली की रहने वाली पूजा से शादी तय करा दी। प्रदीप के अनुसार जब दुल्हन देखने के लिए परिवार के सदस्य बरेली गए तो उन्हें मंदिर में ही दुल्हन दिखाई गई थी। किसी ने उसका घर नहीं दिखाया। बताया विदा के बाद एक महिला दुल्हन के साथ आई थी। इसे दुल्हन अपनी मौसी बता रही थी। शनिवार रात वह भी संजय के घर रुकी थी और वारदात के बाद दुल्हन के साथ ही गायब हो गई। प्रदीप ने बताया घटना के बाद से बिचौलिया भी कॉल रिसीव नहीं कर रहा।

झांझनपुर के लोग भी हैरान

लुटेरी दुल्हन की करतूत से झांझनपुर के लोग भी हैरान हैं। वीरू का परिवार यहां करीब बीस साल से श्यामलाल के मकान में किराए पर रहता है। बताते हैं कि कभी इनका किसी से विवाद नहीं हुआ। शादी के दिन उसने मुहल्ले के लोगों को दावत भी खिलाई थी। 

झांझनपुर में परिवार बेहोशी की हालत में मिला है। आरोप लगाया है कि दुल्हन ने खाने में नशा दिया था और लूटपाट कर भाग गई है। परिजनों की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं। दुल्हन के बारे में पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है।

राजेश कुमार, सीओ सिविल लाइन। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप