मुरादाबाद, जेएनएन। जिला प्रशासन की ओर से बिहार के नागरिकों को स्पेशल श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेन से पूर्णिया तक भेजा जाएगा। प्रशासन के द्वारा संभावित तिथि 16 मई की जानकारी दी गई है। रेलवे की ओर से अभी तक इस मामले की कोई आधिकारिक सूचना नहीं जारी की गई है। एडीएम प्रशासन लक्ष्मीशंकर सिंह ने बताया कि टिकट की सूची मिलने के बाद ही ट्रेन की तारीख और समय के बारे में सही जानकारी यात्रियों को दी जाएगी। ट्रेन से जाने वाले यात्रियों के लिए छह स्कूलों में स्वास्थ्य परीक्षण सेंटर बनाए गए हैं। इन सेंटरों में यात्रियों की ट्रेन छूटने से पांच घंटे पहले पहुंचना होगा। 

यात्रियों का इन सेंटरों में होगा स्वास्थ्य परीक्षण

1-जीजी हिंंदू इंटर कॉलेज बुधबाजार

2-एसएस इंटर कॉलेज बुधबाजार

3-ङ्क्षहदू मॉडल इंटर कॉलेज स्टेशन रोड

4-गांधी नगर पब्लिक स्कूल,लाजपत नगर

5-पारकर इंटर कॉलेज,स्टेशन रोड

6-मौलाना आजाद गल्र्स कॉलेज, कटघर

शाही मदरसा में छात्रों की जांच हुई

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एमसी गर्ग ने बताया कि श्रमिक ट्रेन में सफर करने वाले मदरसे के छात्रों की सूची दी गई है। गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम शाही मदरसा भेजी गई है। स्वास्थ्य विभाग सूची के आधार पर छात्रों के स्वास्थ्य की जांच कर रहा है। स्वस्थ होने पर प्रमाणपत्र जारी किया जा रहा है। इसी प्रमाणपत्र के आधार पर छात्रों को ट्रेनों में सवार होने दिया जाएगा।

ट्रेनों में संक्रमण से बचाव की टीटीई को मिलेगी ट्रेनिंग

कोरोना से ट्रेनों में सुरक्षित ड्यूटी करने के लिए ट्रेन टिकट निरीक्षक (टीटीई) को विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके लिए शुक्रवार को 50 टीटीई को रेलवे स्टेशन पर बुलाया गया है।

रेलवे ने अभी तक मेल एक्सप्रेस चलाने की घोषणा नहीं की है लेकिन, ट्रेन चलने के साथ कोरोना संक्रमण का खतरा बना रहेगा। ऐसे में ट्रेनों में यात्रियों के बीच काम करने वाले टीटीई को सुरक्षित ड्यूटी करने और यात्रियों से शारीरिक दूरी बनाए रखने की ट्रेनिंग दी जाएगी।

सहायक वाणिज्य प्रबंधक नरेश सिंह ने बताया कि शुक्रवार से टीटीई को रेलवे स्टेशन पर प्रशिक्षण दिया जाएगा। 50 टीटीई को बुलाया गया है। रेलवे बोर्ड के आदेश मिलने पर ही ट्रेनें चलायी जाएगी।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस