सम्भल,जेएनएन। तहसील क्षेत्र के गांव शाहजहांनाबाद में ग्राम समाज की दो हजार बीघा जमीन कब्जा मुक्त कराकर वन विभाग को सौंप दी गई। अब इस जमीन पर पौधारोपण होगा। वन विभाग जीव जंतुओं के लिए वेटलैंड बनाएगा, जिससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। 

थाना रजपुरा क्षेत्र के गांव शाहजहांनाबाद के जंगल में गंगा की तलहटी में 2000 बीघा जमीन पर कब्जे को लेकर  दो गांवों के लोगों में विवाद होता रहता था। मंगलवार को उपजिलाधिकारी दीपेंद्र यादव ने  राजस्व विभाग की टीम गठित कर नायब तहसीलदार संजीव कुमार की अध्यक्षता में ग्राम समाज की भूमि को कब्जा मुक्त कराया। मौके पर वन विभाग के अधिकारियों को बुलाकर जमीन को वन विभाग के नाम प्रस्ताव करा कर सौंप दिया। खाली हुई जमीन पर वन विभाग ने मेड़बंदी का कार्य शुरू कर दिया। उपजिलाधिकारी ने बताया कि जमीन कब्जा मुक्त कराके वन विभाग को सौंप दी गई है। जुलाई के प्रथम सप्ताह में वन विभाग के द्वारा कब्जा मुक्त हुई जमीन पर शीशम, गुड़हल, कंजी, सागौन, खैर, बबूल, जूरी, फ्लोरा के पौधे लगाए जाएंगे। पौधारोपण की वजह से विलुप्त हो रहे जीव जंतुओं को एक नया आश्रय स्थल मिलेगा। वेटलैंड के रूप में विकसित इस क्षेत्र में पर्यटन की संभावनाएं बढ़ जाएंगी। मनरेगा के तहत भी सैकड़ों मजदूरों को यहां रोजगार के अवसर मुहैया होंगे। इस मौके पर नायब तहसीलदार संजीव कुमार, वन क्षेत्राधिकारी राजकुमार पाठक, राजस्व निरीक्षक प्रीतम ङ्क्षसह, लेखपाल सुनील यादव, सुरेश यादव, सतीशचन्द्र, शिवम उपनिरीक्षक कुलदीप ङ्क्षसह व चौकी इंचार्ज जिजौंडा सुभाष यादव मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस