मुरादाबाद, जेएनएन। प्रदूषण नियंत्रण विभाग के अधिकारियों और तहसील प्रशासन ने प्रदूषित पानी निकालकर प्रदूषण फैलाने पर जींस की रंगाई करने वाली 13 फैक्ट्रियों को सील कर दिया। 

नगर में 14 जींस रंगाई फैक्ट्रियां चल रहीं थीं जो केमिकल युक्त पानी के साथ-साथ क्षारीय पानी छोड़ रहीं थीं। फैक्ट्री स्वामियों ने प्रदूषित पानी को शुद्ध करने के लिए कोई टैंक या संयंत्र नहीं लगाया था। इस पानी से खादर क्षेत्र की उत्पादक भूमि बंजर बनने की कगार पर पहुंच रही थी। सबसे पहले बसपा नेता ओमप्रकाश सिंह बौद्ध ने इन फैक्ट्रियों के खिलाफ आवाज उठाई। इसके बाद समाजसेवी विश्वबंधु विश्नोई ने मंत्रालय से भी इस संबंध पत्र व्यवहार किया। इसके बाद बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने भी जींस रंगाई फैक्ट्रियों के खिलाफ मोर्चा खोला, धरना आदि दिया। 

केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय से आई जांच रिपोर्ट में पानी के प्रदूषित होने की पुष्टि हो गई। जिलाधिकारी आरके सिंह ने तहसील प्रशासन व पर्यावरण विभाग को इन फैक्ट्रियों को बंद कराने के निर्देश दिये।

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस