मुरादाबाद। कांठ प्रकरण सोमवार को भी गूंजता रहा। कस्बे का बाजार लगातार चौथे दिन बंद रहा,जबकि महानगर में हिंदूवादी संगठन गरजे। उन्होंने कलेक्ट्रेट पर जमकर हंगामा किया और धरने पर बैठ गए। इसके अलावा सरकारी मशीनरी दिनभर आक्रोश को मिटाने में जुटी रही।

जिला मुख्यालय पर कांठ प्रकरण को लेकर भाजपा,हिंदू जागरण मंच, विश्व हिंदू परिषद, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, बजरंग दल, भाजयुमो, आरएसएस, राष्ट्र रक्षक दल, भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के दर्जनों कार्यकर्ता सोमवार को कलेक्ट्रेट में घुस गए। डीएम कार्यालय के बाहर जमकर हंगामा काटा और धरने पर बैठ गए। पहले डीएम के बाहर आकर ज्ञापन लेने की जिद पर हिंदूवादी संगठन अड़े रहे। बाद में प्रतिनिधि मंडल ने कार्यालय में जाकर ज्ञापन सौंपा।

वह कांठ में धार्मिक स्थल पर लाउडस्पीकर लगवाने, संगीन धाराओं में दर्ज मुकदमे वापस लेने, प्रशासनिक और पुलिस अफसरों के खिलाफ कार्रवाई आदि मांगों को लेकर कमिश्नर कार्यालय से नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। युवा वाहिनी के कार्यकर्ता अंदर प्रवेश कर गए और गेट खोल दिया। उसके बाद सभी कार्यकर्ता डीएम कार्यालय पर पहुंच गए। इससे वहां तैनात पुलिस कर्मियों में खलबली मच गई। सिविल लाइंस थाना पुलिस और एसएसपी से लेकर अन्य तमाम अफसर पहुंच गए। प्रदर्शनकारी डीएम को बाहर बुलाने पर अड़ गए। बाद हिंदू जागरण मंच के प्रदेश अध्यक्ष परविंदर सिंह शेखावत, भाजपा महानगर अध्यक्ष रितेश गुप्ता, विनोद अग्रवाल, राजीव चन्ना, कुलदीप गुप्ता, महेश राठौर, दिनेश ठाकुर, सचिन अग्रवाल, अविनाश गुप्ता ने कार्यालय में जाकर डीएम को ज्ञापन सौंपा। इसके अलावा कांठ में चौथे दिन भी बाजार नहीं खुला, व्यापारियों का कहना था कि एसपी देहात व एसडीएम को हटाया जाए और धार्मिक स्थल पर लाउडस्पीकर लगाया जाए, उसके बाद ही बाजार खोला जाए। इस बारे में अफसरों की व्यापारियों से वार्ता का दौर भी असफल रहा। कमिश्नर शिवशंकर सिंह का कहना है कि कांठ में शांति बनाने को लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।

शिवसैनिकों ने भी किया प्रदर्शन

कांठ प्रकरण को लेकर शिवसैनिकों ने भी जिला प्रमुख वीरेंद्र अरोरा के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पहुंच कर प्रदर्शन कर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

ये भी रहे मौजूद

प्रदर्शन के दौरान आरएसएस के पवन जैन, अजय, अनुपेंद्र चौधरी सहित भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह, राजीव गुप्ता, भाजयुमो महानगर अध्यक्ष संजीव चौधरी, हरदेव सिंह, इंग्लेश शर्मा, विशाल चौधरी, रजत शर्मा, कुलदीप शर्मा, अविनाश गुप्ता, रामप्रसाद, दीपक भाटिया आदि भी मौजूद रहे।

डीएम, एसएसपी ने की बैठक

हंगामे के दौरान कलेक्ट्रेट में काम पूरी तरह ठप हो गया। प्रदर्शनकारियों के तेवर देख डीएम ने सभी अफसरों के साथ आपात बैठक की। उधर एसएसपी ने भी एसपी सिटी और एसपी देहात के साथ बैठक की।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस