मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। पिछले साल कोरोना संक्रमण काल में अल्पसंख्यक समाज की बेटियों को शादी अनुदान की धनराशि नहीं मिल पाई। बहुत कम बेटियों को ही इस योजना का लाभ मिला। इस साल चुनावी माहौल है। ऐसे में अभी से 2021-22 के लिए 690 बेटियों की शादी के लिए अनुदान की धनराशि दिए जाने को एक करोड़ 38 लाख रुपये मिल गए है।

आवेदनों का तहसील स्तर से सत्यापन हो रहा है। सत्यापन के बाद ही लाभार्थियों को योजना का लाभ दिया जाना शुरू हो जाएगा। अल्पसंख्यक कल्याण विभाग बेटियों को शादी के लिए 20 हजार रुपये का अनुदान देता है। इसके लिए शादी से तीन महीने पहले और शादी से तीन महीने बाद तक आवेदन किया जा सकता है। आनलाइन आवेदन करने के बाद ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को ब्लाक में हार्ड कापी जमा करनी होती है। शहरी क्षेत्र के आवेदन करने वालों को तहसील सदर में अपने आनलाइन आवेदन की हार्ड कापी जमा करनी होगी। आवेदन करने के लिए शादी का कार्ड, आधार कार्ड, बैंक की पासबुक, आय का प्रमाण होना चाहिए। ग्रामीण क्षेत्र में 46 हजार की आय वालों की बेटियां भी आवेदन कर सकती हैं। शहरी क्षेत्र की उन बेटियों का ही आवेदन स्वीकार किया जाएगा जिनकी आय 56 हजार होगी। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी अंजना सिरोही ने बताया कि आनलाइन आवेदन करके योजना का लाभ उठाया जा सकता है। सरकार ने चालू वित्तीय वर्ष में लाभार्थियों के लिए धनराशि भी जारी कर दी है। जिन लोगों के आवेदन सत्यापन होने के बाद आते रहेंगे, उनको योजना का लाभ मिलता रहेगा। लेकिन, इसके लिए आनलाइन आवेदन कराने के बाद हा़र्ड काफी जमा जरूर जमा करा दें। किसी भी स्तर पर चूक नहीं होनी चाहिए। आवेदन के साथ अपने सभी प्रमाण पत्रों को लगा दें। आवेदन सही पाए जाने पर आपकी धनराशि खुद ही खाते में पहुंच जाएगी।

 

Edited By: Narendra Kumar