जागरण संवाददाता, मीरजापुर :

पति से मिलने मुंबई जा रही महिला का स्पेशल ट्रेन के एसी कोच में बुधवार को तबियत बिगड़ गई। कंट्रोल रूम की सूचना पर जीआरपी ने मीरजापुर में ट्रेन अटेंड कर रेलवे चिकित्सक द्वारा चेकअप कराया। चिकित्सक ने हालत गंभीर देख मंडलीय अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। यहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

मौत की खबर सुनते ही परिवार के लोग रोने-बिलखने लगे। स्वजन द्वारा लिखित प्रार्थना पत्र देकर पोस्टमार्टम नहीं कराया और शव लेकर घर चले गए।

जौनपुर जनपद के थाना सरपतहां अंतर्गत अमवा कला निवासी रोशनी शर्मा (25) अपने भाई मनीष शर्मा और भाभी के साथ स्पेशल ट्रेन (02168) के एसी कोच संख्या बी-4 से अपने पति से मिलने के लिए मुंबई जा रही थी। चुनार के आगे ट्रेन बढ़ने पर रोशनी की तबियत बिगड़ने लगी और स्वजन ने इसकी जानकारी कोच में मौजूद टीटी के साथ कंट्रोल रूम को उपचार मुहैया कराने की अपील की। कंट्रोल रूम ने मीरजापुर जीआरपी व टीटी कार्यालय को फोनकर महिला यात्री को चिकित्सा व्यवस्था मुहैया कराने के लिए निर्देशित किया। ट्रेन जब मीरजापुर पहुंची तो जीआरपी ने रेलवे स्वास्थ्य विभाग द्वारा महिला का चेकअप करने के बाद हालत गंभीर देख परिवार संग उन्हें ट्रेन से उतारकर मंडलीय अस्पताल ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई। इस संबंध में जीआरपी एसआइ अरविद कुमार ने बताया कि महिला टीबी की बीमारी से ग्रस्त थी और कंट्रोल रूम की सूचना पर मंडलीय अस्पताल लाया गया, यहां उनकी मौत हो गई। परिजनों ने पोस्टमार्टम नहीं कराने की अपील की, इस पर शव को सौंप दिया गया।

Edited By: Jagran