जासं, मड़िहान (मीरजापुर) : स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर चल रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम में आशा कार्यकर्ताओं द्वारा कम भोजन परोसा गया। दैनिक जागरण के 14 दिसंबर के अंक में पेज चार पर 'एक किलो चावल में 35 आशा कार्यकर्ताओें को परोस दिया भोजन, की नारेबाजी, हंगामा' खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया। इस पर सीएमओ डा. ओपी तिवारी ने शनिवार को मौके पर जांच पड़ताल की और तत्काल व्यवस्था सही कराई गई।

शनिवार के तड़के एनएचएम के लिपिक दीपक वर्मा स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे और तत्काल वैकल्पिक व्यवस्था कराई गई। दोपहर होते-होते मुख्य चिकित्साधिकारी डा. ओपी तिवारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर आशा कार्यकर्ताओं के बीच पहुंच गए। उनको परोसे गए घटिया खाने के बारे में जानकारी ली तथा उन्हें आश्वस्त किया कि ऐसी शिकायत अब नहीं मिलेगी। भोजन बनाने वाले को तत्काल हटा दिया गया। कार्रवाई के डर से ठेकेदार के आदमी भी किचन में ताला जड़कर शनिवार की सुबह ही फरार हो गए।किचन में ताला जड़े जाने की सूचना जब मिली तो चिकित्सा प्रभारी ने पुलिस को जानकारी दी। सब इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार की मौजूदगी में ताला तोड़ा गया और भोजन बनाया गया। शुक्रवार को जहां भोजन के लिए यहां बवाल मचा था वहीं शनिवार को नजारा बदला-बदला दिखा। आशा कार्यकर्ताओं को सुबह नाश्ते में जहां हलवा दिया गया वहीं दोपहर के लंच में दाल-चावल, रोटी सब्जी और लजीज पापड़ भी परोसा गया।

--------वर्जन

ठेकेदार द्वारा लापरवाही की वजह से ऐसा हुआ जिसे अब हटा दिया गया है। नए ठेकेदार को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है और ऐसी समस्या नहीं आएगी।

- डा. ओपी तिवारी, सीएमओ, मीरजापुर

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस