जागरण संवाददाता ,मीरजापुर : कचहरी गेट पर राजाराम तिवारी को बुधवार की शाम गोली मारने वाले चाचा भतीजे के खिलाफ पुलिस ने देर रात जानलेवा हमला करने समेत अन्य आरोप में मुकदमा दर्ज कर नगर के सिविल लाइन तिराहे से गिरफ्तार कर लिया। गुरुवार की सुबह न्यायालय में पेश करने पर कोर्ट ने दोनों को जेल भेज दिया।

देहात कोतवाली क्षेत्र के आलोक पांडेय ने अपनी बहन उपासना व चाचा धीरज पांडेय के साथ मिलकर बुधवार की शाम कचहरी में दहेज उत्पीड़न का केस देखकर घर जा रहे बहन उपासना के ससुर राजाराम तिवारी निवासी विध्यपुरी कालोनी शहर को कचहरी गेट के पास गोली मारकर घायल कर दिया था। जानकारी होने पर पुलिस ने घायल को मंडलीय चिकित्सालय पहुंचाते हुए उनकी तहरीर पर आरोपितों के खिलाफ जानलेवा हमला करने के आरोप में मुकदमा पंजीकृत कर गुरुवार की भोर नगर के सिविल लाइन से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। आरोपितों की निशान देही पर कहचरी गेट के पास से ही 12 बोर का तमंचा व कारतूस भी बरामद कर लिया है। शहर कोतवाल हरीशचंद्र सरोज ने बताया कि तीसरी आरोपित उपासना की तलाश की जा रही है। उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दिया जा रहा है। एसपी डा. धर्मवीर सिंह ने बताया कि घायल की हालत स्थित है। उन्हें बचाने का प्रयास किया जा रहा है। संभावना जताई कि वे बच भी जाएंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस