जागरण, संवाददाता, मीरजापुर : गणपति बप्पा मोरया, अगले बरस तू जल्दी के गगनभेदी नारों के बीच नगर क्षेत्र से गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। इस दौरान कई टोलियां एकदम मराठी लुक में नजर आईं और गणपति बप्पा मोरया के नारों से शहर गुंजायमान रहा। विभिन्न क्षेत्रों से निकली विसर्जन प्रतिमाओं के आगे लोग नाचते-गाते और एक-दूसरे को अबीर लगाते दिखे। वहीं विसर्जन स्थल पर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच गणेश प्रतिमाओें का विसर्जित किया गया।

रविवार को सुबह से ही बसनही बाजार, धुंधी कटरा, घंटाघर व अन्य क्षेत्रों में स्थापित गणेश प्रतिमाओं की पूजा अर्चना की गई। भव्य सजे पंडालों में विराजमान गणपति बप्पा का विधि-विधान पूर्वक पूजन-अर्चन एवं भव्य आरती की गई। इस अवसर पर भक्तों के बीच प्रसाद का भी वितरण किया गया। इसके बाद गाजे-बाजे के साथ गणेश प्रतिमा विसर्जन की यात्रा निकाली गई। इस यात्रा में भारत के विभिन्न रंग देखने को मिले। यात्रा में भगवान गणेश की प्रतिमा के साथ भक्त जयकारे लगाते और अबीर-गुलाल उड़ाते हुए चल रहे थे। गंगा घाटों पर गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन न करके खजूरी इलाके में विसर्जन किया गया। जहां पुजारी द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के बीच गणपति बप्पा की प्रतिमा को विसर्जित कराया गया। इस दौरान पूरे रास्ते भर नाच गाना और गणेश जी की जय जयकार होती रही।

भटौली में सजा भव्य गणेश पंडाल

सिटी ब्लाक के भटौली गांव में भव्य पंडाल सजाया गया है। यहां चार दिन पहले से ही पंडाल सजाया गया जहां शाम होते ही भक्तों का आना जाना शुरू हो जाता। गांव वालों के आपसी सहयोग से यह पंडाल लगाया गया है। शाम होते ही रंग बिरंगी लाइट्स से पूरा पंडाल परिसर व आने जाने वाला रास्ता प्रकाशमान हो जाता है। गांव की महिलाएं व पुरुष गणेश पूजा कर उनका आशीर्वाद प्राप्त कर रहे हैं, वहीं दिन भर भक्ति गीतों से पंडाल में भक्ति की धारा बहती रहती है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप