जासं, मीरजापुर : लालडिग्गी मोहल्ले के एक होटल में शनिवार को कारपेट दरी मैन्यू फैक्चरर्स एसोसिएशन की बैठक हुई। इसमें कालीन दरी व्यापारियों को जीएसटी रिफंड वापस न होने पर ¨चता जाहिर की गई। कहा कि इससे अब व्यापार पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है।

व्यवसाई आशीष बुधिया ने कहा कि जीएसटी रिफंड के लिए व्यापारियों को बार-बार कार्यालय का चक्कर काटना पड़ता है। रिफंड न होने से व्यापारियों की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। इससे व्यापारियों को धन फंस जाने से व्यापार चौपट हो रहा है। सरकार को इसका नियमित भुगतान करने की व्यवस्था करना चाहिए। दरी कार्पेट व्यवसाय को पहले की तरह बुलंदियों पर ले जाने के लिए चर्चा की गई। व्यापारियों ने जिले में आइआइसीटी की ब्रांच व कामन फेसिलीटी सेंटर खोलने की मांग की। बैठक में कैलाश ¨सह, अधिराज दत्त, मनोज खंडेलवाल, गोपाल खेतान, अनुज जायसवाल, विजय ¨सहानिया आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस