जासं, पटेहरा (मीरजापुर ) : स्थानीय विकास खंड कार्यालय परिसर में बने कई ट्री गार्डों के पेड़ सूख गए हैं जिन्हें सहेजने की किसी के पास फुरसत ही नहीं है। हालांकि उसे वर्तमान में ट्री गार्ड को कूड़ेदान के उपयोग में लिया जा रहा है जिससे पर्यावरण पर प्रभाव पड़ रहा है। क्षेत्र के लोगों का आरोप है कि एक तरफ सरकार पर्यावरण संरक्षण के तहत लाखों रुपये लगाकर पौधरोपण कराने का कार्य कर रही है लेकिन धरातल पर संबंधित विभागों में लगाए गए पेड़-पौधों को पानी तक नसीब नहीं हो रहा है। जिसके कारण वे सूखकर गायब हो गए।

एक ट्री गार्ड में सरकारी धन खर्च कर पर्यावरण की सुरक्षा हेतु रोपित पौधों की सुरक्षा की ²ष्टि से बनवा तो दिया गया किन्तु लोग उसमे पौधों को पानी देने को कौन कहे अगल बगल का कूड़ा फेंक कर पाट दे रहे है। इसका जीता-जागता जागरण के सर्वेक्षण में ब्लाक सभागार भवन के सामने के ट्री गार्ड में पौधा नदारद है। उसके जगह कूड़ा भरा है। इस संबंध में विकास खंड के सहायक विकास अधिकारी पंचायत अशोक दुबे ने अनभिज्ञता जाहिर करते हुए बताया कि दोषी सफाई कर्मी को दंडित कराने हेतु पत्र लिखने का निर्देश जारी किया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021