जागरण संवाददाता, चुनार (मीरजापुर) : मकर संक्रांति भले ही आज है लेकिन युवाओं और बच्चों ने पतंगबाजी कर मंगलवार को ही इसका शगुन कर लिया। पूरा दिन आसमान में सतरंगी पतंगे इठलाती रहीं और हर गली मुहल्ले में भक्काटे की आवाज दिनभर गूंजती रही। कोहरे भरी सुबह के साथ ही पतंगबाजी का सिलसिला भी शुरू हो गया था जो सूर्यास्त होने तक लगातार चलता रहा और पतंगें जमी से लेकर आसमां में तैरती रहीं। इस दौरान बाजार में सजी पतंग की दुकानों पर भी पतंग और मंझा खरीदने वालों की भीड़ लगी रही। वही मकर संक्रांति पर्व मनाने के लिए लाइ व चूड़ा की दुकानों पर भी लोगों भीड़ जुटी रही है और जमकर खरीदारी की।

पतंगबाजों में एक दूसरे की पतंग को काटने, पेच लड़ाने की होड़ मची रही। मकर संक्रांति के पर्व पर पतंग उड़ाने की परंपरा वर्षों से चली आ रही है और इस पर्व पर युवा, बुजुर्ग, बच्चों समेत महिलाओं ने भी हाथ आजमाए। घरों की छतों और बड़े बड़े स्पीकर लगाकर गानों के आनंद के साथ लोगों ने पूरा दिन पतंगे उड़ाई। पतंगबाज पतंगों के साथ अपने हुनर का भी प्रदर्शन करते रहे। आसमान में उड़ रही किसी दूसरी पतंग की सतह तक अपनी पतंग को ले आने के बाद मंझे पर झटका देकर दूसरे की पतंग काटने के साथ ही उनकी पतंग फिर से आसमान की सैर करने लगती थी। हालांकि जिनकी पतंगे कट जाती थी वे भी हार नहीं मान रहे थे। एक पतंग कटी नहीं की दूसरी को छोड़इया दे दी जाती थी। जैसे ही दूसरे की पतंग कटती, भक्काटे की आवाज गूंज उठती। कटी पतंग को लूटने वाले भी पीछे नहीं थे। हाथों में बड़े बड़े बांस लेकर समूह बनाकर लोग पतंगों को लूटते नजर आए। -जोरों पर रही राजनीतिक पतंगों की बिक्री

मकर संक्रांति के अवसर पर नगर में पतंग की दुकानों पर भी राजनीतिक पतंगों ने अपना रंग जमा रखा है। इन पतंगों में खास तौर पर मोदी कर छवि वाली पतंग ज्यादा डिमांड रही। इसके अलावा अमित शाह, राहुल गांधी, योगी आदित्यनाथ की तस्वीरों वाली पतंगों की भी काफी बिक्री हो रही है। इसके अलावा बच्चों के लिए कार्टून कैरेक्टर वाली भी पतंगें बाजार में है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस