जागरण संवाददाता, मीरजापुर : नगर के भरुहना स्थित जीडी बिनानी पीजी कालेज में छात्रसंघ महामंत्री के बिना हस्ताक्षर से साढ़े तीन लाख रुपया निकालने का मामला सामने आया है। इसे लेकर जब महामंत्री आनंद कुमार यादव ने कालेज प्रबंधन से पूछताछ की तो इस मसले पर कालेज में बवाल मच गया। महामंत्री ने कालेज प्राचार्य डा. राजीव अग्रवाल सहित शिक्षकों पर अभद्रता करने का आरोप लगाया है। महामंत्री ने कहा कि समस्या का समाधान नहीं किया गया तो धरना प्रदर्शन करने को बाध्य होंगे। वहीं प्राचार्य ने छात्रसंघ महामंत्री के आरोपों को सिरे से नकारते हुए निराधार बताया।

छात्रसंघ महामंत्री ने कहा कि कालेज में अव्यवस्था और भ्रष्टाचार व्याप्त है। कालेज परिसर में पेयजल की व्यवस्था, छात्राओं के साथ हो रही अभद्रता को लेकर गुरुवार को प्राचार्य से मिलने गए तो छात्र-छात्राओं की समस्या सुनने की बजाय प्राचार्य और मौजूद शिक्षकों द्वारा अभद्रता की गई और पिटाई करते हुए कालेज परिसर से भगा दिया गया। महामंत्री का आरोप है कि कालेज प्रशासन द्वारा छात्रसंघ फंड से बिना उनकी सहमति के ही धनराशि निकाल लिया गया है। छात्रसंघ महामंत्री आनंद कुमार यादव द्वारा लगाया जा रहा आरोप पूर्णतया निराधार है। जीडी बिनानी कालेज में छात्र संघ अध्यक्ष और महामंत्री का आपसी मतभेद चल रहा है। किसी भी कार्य में खर्च करने के लिए छात्रसंघ फंड से धनराशि निकालने के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष व महामंत्री की सहमति ली गई है।

- डा. राजीव अग्रवाल, प्राचार्य, जीडी बिनानी कालेज।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप