जागरण संवाददाता, मीरजापुर : सपा-बसपा गठबंधन को सही समय पर लिया गया सही फैसला करार देते हुए सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने कहा कि भाजपा सरकार में किसानों, बेरोजगारों, पिछड़े, दलितों के साथ अन्याय हो रहा है। बीते चार उपचुनावों से भाजपा चारों खाने चित है और आने वाले लोकसभा चुनाव में प्रदेश से भाजपा का सफाया हो जाएगा। सपा-बसपा जिलाध्यक्षों ने भी जुगलबंदी कर गठबंधन की मजबूती को प्रदर्शित किया।

प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा किया। कहा कि प्रतिवर्ष दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया गया लेकिन युवाओं को नौकरी नहीं मिली। किसानों की फसल का समर्थन मूल्य तो दूर लागत मूल्य भी नहीं मिल रहा। गन्ना के किसान, आलू किसान, मीरजापुर बेल्ट से धान के किसानों को उनकी लागत का मूल्य तक नहीं मिल पा रहा। नरेश उत्तम ने कहा कि भाजपा ने भ्रष्टाचार मुक्त, अपराध मुक्त सरकार का वादा किया लेकिन आज अपराध का ग्राफ इतना बढ़ चुका है कि कोई खुद को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा। सपा जिलाध्यक्ष आशीष यादव, बसपा जिलाध्यक्ष कुंजबिहारी गौतम, पूर्वमंत्री कैलाश चौरसिया, शिव शंकर यादव, सद्दाम राइन आदि रहे।

चारों खाने चित है भाजपा

बीते चार उपचुनावों की चर्चा करते हुए नरेश उत्तम ने कहा कि भाजपा को मुंह की खानी पड़ी। लोकसभा चुनाव में पूरी तरह से सफाया हो जाएगा। गठबंधन को सही निर्णय बताया। प्रदेश अध्यक्ष ने दावा किया कि सपा-बसपा इस बार भाजपा को हराने के लिए कृत संकल्पित है।

मीरजापुर से दावेदारी, संभावना

सपा-बसपा गठबंधन सहित भाजपा, अपना दल (एस) के लिए मीरजापुर लोकसभा सीट काफी मायने रखती है। सियासी गलियारों में इस बात की चर्चा है कि प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम को यहां से उतारा जा सकता है। राज्यमंत्री के मुकाबले गठबंधन से प्रदेश अध्यक्ष उतारे जा सकते हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप