जागरण संवाददाता, मीरजापुर : नगर के बीचोंबीच स्थित शुक्लहा का तालाब जल्द ही आपको जिले का हृदय स्थल नजर आएगा। यहां पर बड़े-बुजुर्गों के साथ ही महिलाएं व बच्चे सुबह व शाम की सैर कर सकेंगे। साथ ही शहर के बाशिदे यहां नौका बिहार व पिकनिक भी मना सकेंगे। शुक्लहा तालाब को संवारने के लिए प्रशासन ने कवायद शुरू कर दी है। इसे दिल्ली के पर्यटन स्थल वाटर पार्क की तर्ज पर संवारा जाएगा। एक बड़े तालाब के चारों तरफ रनवे व सुंदर पार्क का भी निर्माण किया जाएगा। यही नहीं, यहां पर बच्चों के खेलने के लिए कई झूलों के साथ ही विभिन्न सुविधाएं मौजूद होंगी।

अब जनपदवासियों को सैर-सपाटा करने के लिए आसपास के शहरों का रूख नहीं करना पड़ेगा। यहां नगर के शुक्लहा तालाब को दिल्ली स्थित एक वाटर पार्क की की तर्ज पर संवारा जाएगा। जिलाधिकारी सुशील पटेल व पुलिस अधीक्षक डा. धर्मवीर सिंह ने तालाब का विधिवत निरीक्षण किया। इस दौरान तालाब के बड़े हिस्सों पर अतिक्रमण कर अवैध कब्जा कर लिया गया है। अधिकारियों ने सबसे पहले तालाब से अतिक्रमण हटवाने का निर्देश दिया है। भूमि खाली होते ही बड़ा तालाब, गार्डेन व रनवे बनाने की प्रकिया शुरू कर दी जाएगी। इस गार्डेन में हरे-भरे मनोहारी फूलों के अलावा विभिन्न प्रजाति के पौधे समेत अन्य सुविधाओं से सुसज्जित किया जाएगा। पूरे स्थल को सौर उर्जा से लैस किया जाएगा ताकि दिन के अलावा यहां रातों को भी लोग आकर मौज-मस्ती कर सकें। इससे लोग वहां आकर न सिर्फ आनंदित होंगे बल्कि उन्हें स्वास्थ्य लाभ भी मिलेगा। यहां पर टहलने के अलावा तालाब के किनारे बैठकर एक अछ्वुत नजारे का भी आनंद लेने का अवसर मिलेगा। कुछ ऐसा ही स्थल बनाने का प्लान तैयार किया जा रहा है ताकि जो भी मीरजापुर नगर में आए वो इस तालाब की सुंदरता को देखे बिना नहीं रह जाए। पुलिस अधीक्षक डा. धर्मवीर सिंह ने बताया कि तालाब को पर्यटन के स्थल के नजरिए से भी विकसित करने का प्रयास किया जा रहा है। इसका डीएम के साथ निरीक्षण किया है। यहां अतिक्रमण को सभी के सहयोग से जल्द हटाया जाएगा। इनसेट

नगर के भरूहना स्थित शुक्लहा का तालाब काफी बड़ा है। राजस्व विभाग में इसका क्षेत्रफल लगभग 12 बीघे से अधिक है। मौजूदा समय में तालाब के बड़े भूभाग पर लोगों ने अतिक्रमण कर कब्जा किया है।

इनसेट

ये होंगी सुविधाएं

- पिकनिक स्थल के रूप में होगा विकसित।

- पूरे क्षेत्र को सौर उर्जा लैस किया जाएगा।

- नौका बिहार के लिए नाव चलाई जाएगी।

- पार्क बनाने के साथ लगाए जाएंगे फौव्वारे।

- तालाब के चारों ओर रनवे का होगा निर्माण।

- पौधरोपण के साथ होंगी तमाम सुविधाएं।

-------------------------------------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस