जासं, मीरजापुर : पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद अनुप्रिया पटेल ने कहा कि यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का ऐतिहासिक फैसला इतिहास में स्वर्णाक्षरों में दर्ज हो गया। साथ ही सरदार बल्लभ भाई पटेल का सपना भी पूरा हो गया। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना एक निर्भिक एवं सशक्त फैसला है। एक मजबूत सरकार ही इस तरह का फैसला ले सकती थी। ऐसा लगा कि पूरा देश आज महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के सपनों को साकार होते देख रहा है। आजादी के बाद से अब तक न जाने हमारे कितने सैनिक शहीद हो गए और कई निर्दोष नागरिक हताहत हो गए। आज के फैसले से कश्मीर में एक नई सुबह की शुरूआत होगी। अपना दल (एस) के कार्यवाहक अध्यक्ष एवं विधान परिषद सदस्य आशीष पटेल ने कहा कि प्राचीन काल से जम्मू-कश्मीर ऋषि व मुनियों की धरती रही है। प्राचीन काल में जम्मू-कश्मीर को सूर्य की राजधानी कहा जाता था, लेकिन दुर्भाग्यवश पिछले कुछ दशकों से राजनीतिक कारणों की वजह से जम्मू-कश्मीर में नई समस्याएं पैदा हो गई थीं। आज के ऐतिहासिक फैसले से जम्मू-कश्मीर की आवाम भी स्वतंत्रता का अनुभव कर रही है। वहां के लोग आजादी का अनुभव कर रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप