ट्रैक पार कर रही महिला को बचाने में रुकी साबरमती एक्सप्रेस

-ट्रेन को देख भाग रही महिला की सफाई सुपरवाइजर ने बचाई जान

-जानकारी होते ही आरपीएफ, जीआरपी व पहुंच गए रेल अधिकारी

जागरण संवाददाता, मीरजापुर : स्थानीय रेलवे स्टेशन पर गुरुवार की सुबह अवैध तरीके से ट्रैक पार कर रही महिला यात्री ट्रेन को आता देख भागने लगी। मौके पर मौजूद रेल सफाई सुपरवाइजर रामराज ने अपनी सूझबूझ का परिचय देते हुए महिला का हाथ पकड़कर प्लेटफार्म पर खींचकर उसकी जान को बचा लिया, लेकिन गोरखपुर की तरफ जा रही साबरमती एक्सप्रेस रूक गई जबकि यहां पर ट्रेन का ठहराव नहीं है। आरपीएफ व जीआरपी संग रेल अधिकारियों की टीम ने जांच पड़ताल करते हुए ट्रेन को आगे के लिए रवाना कराया।

बिहार प्रांत के कटिहार जनपद के कछवां क्षेत्र के सागर गांव के 50 वर्षीय स्वामी देवी पत्नी जोगिदर शाह गांव के पंद्रह महिला और पांच पुरुषों के साथ सीमांचल एक्सप्रेस (12487) ट्रेन से विंध्याचल मां विंध्यवासिनी का दर्शन करने के लिए चली थी। सीमांचल ट्रेन विंध्याचल में ठहराव न होने के कारण सभी यात्री मीरजापुर स्टेशन के प्लेटफार्म तीन पर उतर गए। यहां स्वामी देवी प्लेटफार्म एक पर जाने के लिए ट्रैक पार करने लगी तभी अहमदाबाद जक्शन से गोरखपुर को जाने वाली साबरमती एक्सप्रेस (19489) ट्रेन को आता देख महिला घबराकर भागने लगी। प्लेटफार्म दो पर मौजूद सफाई सुपरवाइजर रामराज ने महिला को भागता देख दौड़कर पहुंचे और उसका हाथ पकड़कर ऊपर खींच लिया तब जाकर उसकी जान बच सकी। हालांकि महिला घबरा गई थी जिसे प्लेटफार्म पर बैठाया गया। मौके पर पहुंचे आरपीएफ प्रभारी दिनेश कुमार, महिला एसआइ रिंकू सिंह, कांस्टेबल डीके मिश्रा, डिप्टी एसएस आशुतोष शर्मा, एसएस रवींद्र कुमार, सीआइटी परवेज सिद्दकी ने जांच पड़ताल की।

Edited By: Jagran