जागरण संवाददाता, मीरजापुर : जन सेवा संचालकों ने गुरुवार को जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। जन सेवा संचालकों ने जिलाधिकारी को पत्रक सौंपकर समस्या समाधान की मांग की। अध्यक्ष प्रभात मौर्य ने कहा कि ग्राम पंचायतों में ग्राम सचिवालय की स्थापना एवं पंचायत सहायक की तैनाती की जा रही है। इसमें जन सेवा केंद्र संचालकों को प्राथमिकता देते हुए नियुक्त किया जाए।

हिमांशु त्रिपाठी ने कहा कि जन सेवा संचालक सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं को पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश के तमाम पंचायतों में कामन सर्विस सेंटर स्थापित किया गया है। जिससे आम जनता तक पंचायत सचिवालय की सुविधाओं को पहुंचाया जा सके।

सभी जन सेवा संचालक सरकार के निर्देशानुसार नागरिक सेवा, पेंशन, प्रधानमंत्री मानधन योजना आदि कार्य कर रहे हैं। कोविड-19 के दौर में संचालकों ने घर-घर जाकर बैंकिग, टीकाकरण रजिस्ट्रेशन, आधार, बिजली बिल, बिजली कनेक्शन, पैन कार्ड आदि कार्य किया। कहा कि जन सेवा संचालकों को ग्राम पंचायत स्तर पर कंप्यूटर आपरेटर के रूप में नियुक्त किया जाए। पंचायतों में संचालित हो रहे एक से अधिक सीएससी को बंद किया जाए। रोहित मौर्य, अवधेश कुमार पांडेय, दिनेश, ऋषिकेश, वेद प्रकाश, नागेंद्र प्रसाद, आशीष, दीपक विश्वकर्मा, महेंद्र गुप्ता, संदीप पाल, रतन लाल विश्वकर्मा आदि ने समस्या समाधान की मांग की।

Edited By: Jagran