जागरण संवाददाता, राजगढ़ (मीरजापुर) : ग्रामीण इलाकों में पशुपालक काफी चितित हैं। पिछले वर्ष पशुपालकों को काफी घाटा हुआ था। इस वर्ष भी कोरोना संक्रमण के चलते दूध के दाम में काफी गिरावट आ चुकी है। पशुपालकों से दुधारा 12 रुपये प्रति लीटर दूध ले रहा है। पशुपालक कैलाश सिंह ने बताया कि पानी से सस्ता दूध हो चुका है। इससे काफी घाटा हो रहा है। किसान शांति देव सिंह, हौसला प्रसाद सिंह, विनय कुमार, संदीप कुमार, विनोद कुमार, धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि दूध इतना सस्ता हो गया है कि परिवार का भरण-पोषण भी मुश्किल हो गया है। गेहूं की खरीद भी नहीं हो पा रही है। पशु आहार महंगा हो गया है। किसान दसमी सिंह ने बताया कि आठ गाय और भैंस पाला है। हर सामान महंगा हो गया है, कोरोना के चलते दूध सस्ता ही होता जा रहा है। इससे पशु आहार का लागत मूल्य नहीं निकल पा रहा है। किसान जगदीश सिंह ने बताया कि पानी के भाव से भी कम दाम में दूध बिक रहा है। एक लीटर दूध की कीमत 12 रुपये तो एक लीटर पानी 20 रुपये में बिक रहा है