जासं, मीरजापुर : वाराणसी से मुंबई को जाने वाली महानगरी एक्सप्रेस के स्लीपर कोच में टिकट न बनवाने पर दो यात्रियों से टीटी से नोकझोंक हो गई। टीटी ने कंट्रोल रूम के सूचित कर दिया। कंट्रोल ने आरपीएफ व जीआरपी को सूचना दी। हालांकि मीरजापुर के पहले ही दोनों ने अपनी टिकट बनवा लिया। हालांकि मीरजापुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन पहुंचने पर आरपीएफ व जीआरपी टिकट बनवाने की जानकारी टीटी द्वारा दिया गया।

वाराणसी से महानगरी एक्सप्रेस ट्रेन चली तो स्लीपर कोच संख्या 12 में दो यात्री सवार हो गए थे। कोच टीटी ने दोनों यात्रियों से टिकट मांगा तो दोनों ने अपने मोबाइल में टिकट दिखाया लेकिन टीटी ने उसे नहीं माना और कहा कि आप दोनों को टिकट बनवाना पड़ेगा। ऐसे में दोनों टीटी से उलझ गए और कहासुनी करने लगे। बात बढ़ी तो टीटी ने कंट्रोल रूम को मामले से अवगत कराया। हालांकि दोनों अपने आपको को उलझता देख उक्त टीटी से चुनार के आगे ट्रेन पहुंचने पर दोनों अलग-अलग पांच सौ पचपन-पांच सौ पचपन का टिकट बनवा लिया। मीरजापुर स्टेशन पर ट्रेन पहुंची तो जीआरपी व आरपीएफ कोच के पास पहुंची तो टीटी ने बाहर निकल बताया कि दोनों ने टिकट बनवा लिया। हालांकि टीटी द्वारा दिए गए मेमो के आधार पर ट्रेन को आगे के लिए रवाना किया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस