जागरण संवाददाता, मीरजापुर : जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल व पुलिस अधीक्षक डा. धर्मवीर सिंह ने कार्तिक पूर्णिमा स्नान के ²ष्टिगत सोमवार शाम को जनपद के प्रमुख घाटों का निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकारियों द्वारा सबसे पहले पक्काघाट का निरीक्षण किया तथा वहां पर घाटों की सफाई कराने का निर्देश दिया। साथ ही यह भी कहा गया कि महिलाओं को कपड़े बदलने के लिए उपयुक्त स्थान बनाया जाए।

निरीक्षण के दौरान पुलिस अधीक्षक ने संबंधित प्रभारी कोतवाली शहर को पुलिस व महिला पुलिस बल लगाने का निर्देश दिया। साथ ही यह भी कहा कि कई अनावश्यक रूप से खड़े शोहदों को वहां से भगाया जाए। इसके बाद अधिकारियों द्वारा नारघाट का निरीक्षण किया गया। वहां भी सफाइ के निर्देश व कपड़े बदलने का स्थान बनाने का निर्देश दिया गया। इस दौरान नार घाट पर गंदगी देख जिलाधिकारी द्वारा नगर मजिस्ट्रेट से सफाई कर्मियों के बारे में जानकारी ली गई। साथ ही सफाई कर्मियों की लगाई गई ड्यूटी की सूची लेकर औचक निरीक्षण करने का निर्देश दिया। इसके बाद डीएम व एसपी ने विध्याचल स्थित पक्काघाट सहित अन्य घाटों का निरीक्षण किया तथा आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान अपरजिलाधिकारी यूपी सिंह से जिलाधिकारी ने कहा कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन ही गुरूनानक देव की जयंती भी है। इसलिए नगर में सफाई व्यवस्था दुरूस्त किया जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस