जागरण संवाददाता, मीरजापुर : जिलाधिकारी अनुराग पटेल के निर्देश पर नायब तहसीलदार नगर के नेतृत्व में चार सदस्यीय टीम ने मंगलवार को देहात कोतवाली क्षेत्र के धौरूपुर स्थित रिलायंस पेट्रोल पंप पर औचक छापा मारा। छापेमारी के दौरान टीम ने पेट्रोल पंप के आयल की जांच की तो पेट्रोल और डीजल दोनों में भारी मात्रा में पानी मिलाना पाया गया। टीम ने आयल का सैंपल लेते हुए इसकी रिपोर्ट तैयार कर डीएम को सौंपने की बात कही।

चंदौली जनपद के मुगलसराय निवासी सतीश कुमार ने सोमवार को नगर के धौरूपुर स्थित रिलायंस पेट्रोल पंप से अपने मारूति कार में 500 रुपये का पेट्रोल भरवाया था। पेट्रोल भरवाने के बावजूद गाड़ी स्टार्ट नहीं हुई तो पास के एक मोटर मैकेनिक के यहां गाड़ी ले गए। जहां चेक करने के बाद मैकेनिक ने बताया कि उनके पेट्रोल में भारी मात्रा में पानी मिला हुआ है जिससे गाड़ी स्टार्ट नहीं हो रही है। यह पेट्रोल गिराकर दूसरा तेल भराने के बाद ही गाड़ी स्टार्ट होगी। यह सुनकर सतीश कुमार नाराज हो गए और पेट्रोल पंप पर पहुंचकर हंगामा मचाने लगे। उन्होंने जिलाधिकारी से मामले की शिकायत करते हुए बताया कि पंप कर्मियों द्वारा डीजल और पेट्रोल में पानी मिलाकर बेचा जा रहा है जिससे ग्राहकों के वाहनों को काफी नुकसान पहुंच रहा है। पंप मालिक 50 रुपये फायदा कमाने के चक्कर में लोगों के पांच लाख के वाहन से खिलवाड़ कर रहा है। मामले को गंभीरता से लेते हुए डीएम ने नायब तहसील नगर योगेंद्र शाक्य के नेतृत्व में इंडियन आयल कार्पोरेशन के शरण कुमार, बाट पांच की निरीक्षक शैल कुमारी तथा क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी लक्ष्मण कुमार समेत चार सदस्यीय टीम गठित कर शिकायत की जांच कर उसकी रिपोर्ट देने का निर्देश दिया। मंगलवार को टीम पंप पर औचक छापेमारी करते हुए डीजल और पेट्रोल दोनों की जांच की तो दोनों में पानी पाया गया। वर्जन

सोमवार को भारी बारिश के चलते पेट्रोल पंप के टंकी में कही से पानी का रिसाव हो गया है। जिसके चलते पेट्रोल और डीजल दोनों में पानी आ रहा है। इसका पता लगाया जा रहा है कहा से पानी रिसाव हुआ है। घटिया आयल बेचने का आरोप गलत है।

-हरिशंकर मालिक रिलायंस पेट्रोल पंप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप